कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव : 24 से 30 सितंबर तक होंगे नामांकन, राजस्थान के लिए टर्निंग पॉइंट हो सकता है फैसला, गहलोत अध्यक्ष बने तो CM कौन, सचिन पायलट खेमे के समीकरण भी बदलेंगे

3 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 28 अगस्त 2022 | जयपुर :  कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव 17 अक्टूबर को होगा। 19 अक्टूबर को काउंटिंग और रिजल्ट आयेगा। रविवार को कांग्रेस वर्किंग कमेटी ( CWC) की वर्चुअल बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी गयी है। कांग्रेस अध्यक्ष पद पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम को लेकर चल रहा सस्पेंस अब भी बरकरार है।

कांग्रेस चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने मीडिया से कहा कि CWC ने कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव कार्यक्रम को मंजूरी दे दी है। 22 सितंबर को कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव के लिए नोटिफिकेशन जारी होगा। 24 से 30 सितंबर तक नामांकन होंगे। 1 अक्टूबर को नामांकनों की जाँच होगी। 8 अक्टूबर को नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख होगी। अगर एक से ज्यादा उम्मीदवार हुआ तो ही चुनाव होंगे नहीं तो 8 अक्टूबर को ही अध्यक्ष की घोषणा हो जायेगी।

एक से ज्यादा उम्मीदवार होने पर सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों के स्तर पर वोटिंग होगी। 19 अक्टूबर को वोट गिने जाएंगे और अध्यक्ष के चुनाव के नतीजे घोषित होंगे। करीब 9000 कांग्रेस डेलिगेट्स अध्यक्ष के चुनाव के लिए वोटिंग करेंगे।

24 से 30 सितंबर के बीच ही तय होगी गहलोत की दावेदारी

सीडब्ल्यूसी की बैठक में आज कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव का कार्यक्रम मंजूर करने पर ही फोकस रहा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लेकर अब भी सस्पेंस बरकरार है। आज केवल चुनाव कार्यक्रम को मंजूरी दी गयी है। कांग्रेस अध्यक्ष पद पर गाँधी बनाम गैर गाँधी का मुद्दा अब भी अनसुलझा ही है। अब 24 से 30 सितंबर तक अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने वाले नेता नामांकन करेंगे।

गहलोत को लेकर नामांकन की तारीख पर ही अब सस्पेंस क्लियर होगा। गहलोत नामांकन करते हैं या नहीं इसी पर आगे दारोमदार रहेगा। कांग्रेस का एक धड़ा राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने की मांग कर रहा है। गहलोत सहित कई नेता अब भी राहुल को मनाने की बात कह रहे हैं। इससे पहले दोपहर साढ़े 3 बजे से साढ़े 4 बजे तक सीडब्ल्यूसी की वर्चुअल बैठक हुई। सोनिया गांधी इलाज के लिए अमेरिका दौरे पर हैं। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी साथ हैं,तीनों अमेरिका से ही वर्चुअल बैठक में जुड़े।

राजस्थान से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सीडब्ल्यूसी सदस्य रघुवीर मीणा, गुजरात प्रभारी रघु शर्मा, पंजाब प्रभारी हरीश चौधरी, भंवर जितेंद्र सिंह और प्रदेश प्रभारी अजय माकन बैठक से जुड़ें। यह बैठक ऐसे समय में हुई जब जी-23 के गुलाम नबी आजाद राहुल गांधी पर चापलूसों से घिरे रहने और पार्टी को बर्बाद करने के आरोप लगाकर कांग्रेस छोड़ चुके हैं। मनीष तिवारी भी खुलकर सामने आ चुके हैं। आनंद शर्मा सहित इस ग्रुप से जुड़े कई और नेता भी खुलकर सामने आने की तैयारी में हैं।

दिल्ली से वर्चुअल बैठक में जुड़े कांग्रेस नेता

आज की बैठक गुलाम नबी के कांग्रेस छोड़ने से पहले तय हो चुकी थी। आज बैठक में जी-23 से जुड़े नेताओं के मुद्दों पर आनंद शर्मा के अलावा किसी ने जिक्र नहीं किया। राहुल गांधी की अगुवाई में 7 सितंबर से कन्या कुमारी से भारत जोड़ो यात्रा निकाली जा रही है। इससे पहले 4 सितंबर को दिल्ली में महंगाई के खिलाफ कांग्रेस की रैली होने जा रही है।

राजस्थान के लिए टर्निंग पॉइंट हो सकता है फैसला

अशोक गहलोत का नाम अध्यक्ष पद पर आगे करने और नहीं करने की दोनों ही हालत में राजस्थान की राजनीति के लिए टर्निंग पॉइंट माना जायेगा। इससे राजस्थान की सियासत में कई बदलाव होंगे। सचिन पायलट खेमे के समीकरण भी बदलेंगे।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This