वर्जिनिटी टेस्ट : शादी के बाद वर्जिनिटी टेस्ट में फेल, पंचायत ने लगाया 10 लाख रुपए का जुर्माना, कुकड़ी प्रथा से जाँच

3 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो I 4 सितंबर 2022 I जयपुर-भीलवाड़ा : शादी के बाद ‘V’ (वर्जिनिटी) टेस्ट में लड़की पास नहीं हुई तो उसे ससुराल वालों ने छोड़ दिया। गांव में पंचायत बुलायी गयी। पंचायत ने लड़की और उसके घरवालों पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगाया। पैसे नहीं दिये तो लड़की और उसके घरवालों को प्रताड़ित किया जा रहा है। मामला भीलवाड़ा जिले के बागोर थाना इलाके का है। थाना प्रभारी अयूब खां ने बताया कि भीलवाड़ा शहर में रहने वाली एक 24 साल की युवती का विवाह बागोर में 11 मई 2022 को हुआ था।

Untitled.png ० 300x234 वर्जिनिटी टेस्ट : शादी के बाद वर्जिनिटी टेस्ट में फेल, पंचायत ने लगाया 10 लाख रुपए का जुर्माना, कुकड़ी प्रथा से जाँच
शादी के बाद वर्जिनिटी टेस्ट में फेल

शादी के बाद उनके समाज की कुकड़ी प्रथा के तहत उसका वर्जिनिटी टेस्ट किया गया था। इसमें वह पास नहीं हो पायी। उससे पूछताछ में सामने आया था कि शादी से पहले उसके पड़ोस में रहने वाले एक युवक ने उसका रेप किया था। इस पर पति, सास ने मारपीट की। इसके बाद ससुराल पक्ष की ओर से बागोर के भादू माता मंदिर में समाज की पंचायत बुलायी गयी। विवाहिता की शादी 11 मई को होने के बाद उसका वर्जिनिटी टेस्ट किया तो वह पास नहीं हुई। पति-सास ने मारपीट की तो पूर्व में हुए रेप की बात सामने आ गयी थी।

पंचायत में लड़की के घरवालों ने 18 मई को सुभाष नगर थाने में रेप का मामला दर्ज करा देने की बात बताई। हालांकि उस समय पंचायत ने कोई फैसला नहीं सुनाया। 31 मई को दोबारा से पंचायत बुलायी गयी। पंचायत ने लड़की के पीहर पक्ष पर अनुष्ठान के नाम पर 10 लाख रुपए जुर्माना लगाया। लड़की के घरवालों ने पंचायत के फैसले के बारे में पुलिस को शिकायत की। पुलिस ने मामले की जाँच की तो सही पाया। शनिवार रात विवाहिता के पति व ससुर के खिलाफ शनिवार रात मामला दर्ज किया गया है।

5 महीने से पीड़िता को कर रहे परेशान
मांडल के डीएसपी सुरेंद्र कुमार ने बताया- पीड़िता के परिजनों की रिपोर्ट के बाद इस मामले की पूरी जाँच की गयी। जिस मंदिर में पंचायत बुलायी गयी थी। वहाँ के पुजारी, समाज के पंच व अन्य लोगों के बयान लिये गये। जाँच में सामने आया कि पीड़िता की शादी के बाद कुकड़ी प्रथा की गयी। जिसमें वह पास नहीं हो पायी थी। पंचायत ने पीड़िता के परिजनों पर 10 लाख का जुर्माना लगाया गया था। जुर्माना राशि को लेकर पिछले पाँच माह से पीड़िता को प्रताड़ित किया जा रहा है।

आरोपियों की बेटी इसी प्रथा से तंग आकर कर चुकी सुसाइड
कुकड़ी प्रथा के चलते जिले में कई बेटियों की जिंदगी खराब हुई। कई बेटियों ने इस प्रथा के बाद की प्रताड़नाओं से तंग आकर सुसाइड भी कर लिया। सबसे बड़ी बात यह है कि विवाहिता के ससुराल पक्ष की बेटी भी इसी कुप्रथा से प्रताड़ित होकर एक साल पहले सुसाइड कर चुकी है। उस समय इसी परिवार की ओर से इस कुप्रथा को काफी खराब बताया गया था।

panchayat 780x421 1 300x162 वर्जिनिटी टेस्ट : शादी के बाद वर्जिनिटी टेस्ट में फेल, पंचायत ने लगाया 10 लाख रुपए का जुर्माना, कुकड़ी प्रथा से जाँच
वर्जिनिटी टेस्ट : शादी के बाद वर्जिनिटी टेस्ट में फेल होने पर पंचायत का फैसला

चादर पर खून के धब्बे हों तो
चादर पर खून का धब्बे मिलें तो दुल्हन को वर्जिनिटी टेस्ट में पास घोषित किया जाता है। इसके बाद दुल्हन कुछ ब्लड सूत की गेंद (कुकड़ी) पर भी लगाती है। दोनों परिवारों के सदस्यों को ब्लड लगा सफेद कपड़ा और कुकड़ी दिखायी जाती है। सबूत के तौर पर सफेद कपड़ा पीहर पक्ष और कुकड़ी ससुराल पक्ष को दी जाती है।

चादर पर खून के धब्बे न हों तो
चादर पर खून के धब्बे न होने का सीधा मतलब है- दुल्हन की जिंदगी अब नर्क बना दी जायेगी। दूल्हा खुद चिल्ला-चिल्लाकर सबको बताता है कि ये कैरेक्टर लेस है, किसी और के साथ मुंह काला कर चुकी है। ससुराल वाले दुल्हन के कपड़े उतारकर उसे पीटते हैं। पूछते हैं- अपने यार का नाम बता! इसके बाद जाति की पंचायत बैठती है, जिसमें लड़की के परिवार पर लाखों रुपए का जुर्माना लगा दिया जाता है। जुर्माने से बचने और अपने पवित्रता साबित करने के लिए लड़की को दो और मौके दिये जाते हैं।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

1 thought on “वर्जिनिटी टेस्ट : शादी के बाद वर्जिनिटी टेस्ट में फेल, पंचायत ने लगाया 10 लाख रुपए का जुर्माना, कुकड़ी प्रथा से जाँच”

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This