बैंक की मेहरबानी से आप भी मिनटों में बन सकते हैं अरबपति, बैंक की गड़बड़ी की वजह से रमेशभाई सगर खाते में 11677 करोड़ रुपए जमा

3 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 16 सितंबर 2022 | जयपुर-मुंबई : गुजरात के अहमदाबाद में बैंक की गड़बड़ी की वजह से रमेशभाई सगर नामक शख्स के खाते में 11,677 करोड़ रुपए जमा हो गए। रमेशभाई सगर अहमदाबाद में एम्ब्रॉयडरी के व्यापारी हैं। वो 5 साल से शेयर बाजार में भी ट्रेड कर रहे हैं। इस रकम में से दो करोड़ रुपए उन्होंने शेयर बाजार में लगाये और करीब आधे घंटे में पांच लाख रुपए कमा लिए। भास्कर से बातचीत में रमेशभाई सगर ने कहा- मैं तुरंत फैसला लेता हूं, इसलिए लाभ कमाया।

मैंने बैलेंस चेक किया तो मेरी आंखें चौड़ी हो गईं
जिंदगी बदलने वाले पलों को याद करते हुए रमेशभाई सगर कहते हैं- 26 जुलाई को रोज की तरह सुबह 9.30 बजे ट्रेडिंग करने के लिए बैठा था। 2-3 ट्रेड किये, लेकिन उस दिन बाजार में ज्यादा चहल-पहल नहीं थी। फिर 11.30 बजे तक इंतजार किया। अचानक जब मैंने बैलेंस चेक किया तो मेरी आंखें चौड़ी हो गईं। मेरे खाते में 11,677 करोड़ रुपए आये।

पैसा निवेश कर फायदा कमाया
जब मेरे खाते में इतनी बड़ी राशि जमा हो गई, तो अचानक मुझे लगा कि पैसा थोड़े समय के लिए ही आया है, बैंक को रुपए वापस देने ही पड़ेंगे, तो मैंने सोचा कि इसे आधे घंटे के लिए निवेश करूं और जो भी लाभ मिले उसे बुक करूं और जो रुपए गलती से आये हैं उसे बैंक वापस ले ले। मैं रोजाना ट्रेडिंग करता हूं, लेकिन अधिकतम 25 हजार रुपए का करता था, लेकिन अब मेरे खाते में 11,677 करोड़ रुपए आये।

शेयर बाजार में लगाए 2 करोड़ रुपए
रमेशभाई ने बताया- मैंने खाते में जमा हुए पैसे में से लगभग 2 करोड़ रुपए बैंक निफ्टी कॉल-पुट में कारोबार किया। उस समय रुपए शेयर बाजार में निवेश करते समय मैंने एक बार नुकसान के बारे में सोचा था, लेकिन मुझे शेयर बाजार का ज्ञान था, इसलिए मुझे ज्यादा डर नहीं लगा।

मैं तुरंत निर्णय ले लेता हूं
रुपए देखकर खुशी का ठिकाना नहीं रहा। मैंने इसके बारे में नहीं सोचा और मुझे अचानक से 5 लाख रुपए का मुनाफा हुआ, तो मुझे अच्छा लगा। यह घटना अब बहुत सार्वजनिक हो गयी है। आसपास के लोगों और परिवार ने भी कहा कि बैलेंस आया और निवेश किया। इतना दिमाग चलाया यह बहुत अच्छी बात है। अपनी निर्णय शक्ति के बारे में उनका कहना है कि जो कुछ भी हुआ, मैं तुरंत निर्णय ले लेता हूं।

आपने शेयर बाजार में कैसे कारोबार करना शुरू किया?
मेरा एक दोस्त था। वह शेयर बाजार का कारोबार करता था। उसने मुझसे कहा कि शेयर बाजार में थोड़ा निवेश करना अच्छा रहेगा। तब से 4-5 साल से मैं शेयर बाजार में भी कुछ कारोबार करता हूं। दोस्त को पता चला या नहीं, इस बारे में रमेशभाई का कहना है कि वह इस समय शहर से बाहर हैं और संपर्क में नहीं हैं।

दोस्तों को पता चला तो उन्होंने पार्टी मांगी
जब आसपास के दोस्तों को पता चला तो उन सभी से एक पार्टी देने के लिए कई फोन आये कि ‘भाई, पार्टी चाहिए।’ मैंने कहा, ‘एक बार पैसे वापस आने दो।’ दोस्तों के पार्टी के लिए करीब 500 कॉल आये। अगर आप हर एक के लिए पार्टी करते हैं, तो आधा रुपया पार्टी में ही इस्तेमाल हो जायेगा, तो मैंने सोचा कि एक बड़ी पार्टी करते हैं।

अन्य व्यक्ति के पास भी इतनी राशि जमा हुई थी, लेकिन उन्होंने नहीं उठाया मौके का फायदा
रमेशभाई ने कहा कि उस दिन मेरी तरह बिहार में भी एक व्यक्ति के खाते में पैसा जमा हुआ था। वहां भी उतनी ही रकम का ट्रांसफर किया गया था, लेकिन उसने निवेश नहीं किया। उसने केवल यह देखा कि बैलेंस आ गया है। रमेशभाई ने कहा कि मौका मिले तो चौका लगा देना चाहिए।

पोरबंदर में खेती में काम किया, अहमदाबाद में नौकरी की
मैं सिर्फ सातवीं तक पढ़ा हूं और मैंने अपनी पढ़ाई पोरबंदर में की है। फिर 3-4 साल खेती में काम किया। फिर लगभग 16 वर्ष की उम्र में अहमदाबाद आ गया। यहां आकर एम्ब्रॉयडरी का काम करने लगा। 4-5 साल की नौकरी करने के बाद 2008 में अपना काम शुरू कर दिया।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This