वाराणसी, इलाहबाद, लखनऊ, आगरा सहित यूपी के कई शहरों में कोरोना को लेकर अलर्ट, कोरोना रोकथाम के लिए UVC उपकरण लगाने की सलाह

6 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 28 अप्रैल, 2023 | जयपुर-दिल्ली- बनारस : उत्तर प्रदेश समेत देश भर में एक बार फिर कोरोना का खतरा मंडराने लगा है। यूपी के कुछ जिलों में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई। जिसे योगी सरकार (Yogi Govt Alert on Corona) ने गंभीरता से लेते हुए सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स और सरकारी एवं निजी अस्पतालों को सतर्क (Covid Alert in UP) रहने का निर्देश दिया है। प्रभावित जिलों में टेस्टिंग बढ़ाने के साथ ही सांस से जुड़ी बीमारियों की सघन निगरानी के निर्देश भी जारी किए गए हैं। बीते कुछ दिनों में कोविड-19 के मामलों में आंशिक वृद्धि देखने को मिली है।

AIRCARE MART 1 128x300 वाराणसी, इलाहबाद, लखनऊ, आगरा सहित यूपी के कई शहरों में कोरोना को लेकर अलर्ट, कोरोना रोकथाम के लिए UVC उपकरण लगाने की सलाहCovid-19 ओमीक्रोन के सब वेरिएंट बीएफ-7 के कहर के बाद उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत अन्य जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। कानपुर, झांसी, मथुरा, मुरादाबाद, अमेठी, पीलीभीत और आगरा जैसे जिलों में कोविड-19 के प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने का आदेश दिया गया है। साथ ही अस्पतालों में जांच इलाज की व्यवस्थाएं दुरुस्त कर ली गई हैं। चिकित्सकों को अलर्ट रहने के लिए कहा गया है और बाहर से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग और जांच करने के आदेश दिए गए हैं। आइए जानते हैं विस्तार से हर एक जिले में क्या व्यवस्था की गई है।

पॉजिटिव मरीजों की होगी जीनोम सीक्वेंसिंग

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के सभी अस्पतालों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। सभी अस्पतालों में कोरोना वायरस के लक्षण के मरीजों की जांच तत्काल प्रभाव से करने और उन्हें तुरंत आइसोलेट करने के दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। अस्पतालों में पीपीई किट व्यवस्था करने और मास्क के अनिवार्य करने के लिए भी कहा गया है। देश में कोविड के मामले बढ़ रहे हैं। शासन ने हमें अलर्ट रहने के लिए निर्देशित किया है। हमने अस्पताल में 25 बेड कोविड के लिए रिजर्व कर दिए हैं। सभी वेंटिलेटर को भी चेक किया गया है। ऑक्सीजन प्लांट भी चुस्त-दुरुस्त हैं।

देशभर में कोरोना के मामलों में एक बार फिर बढ़ोतरी देखी जा रही है। पिछले 24 घंटे की बात करें तो एक दिन में कोरोना वायरस के 3,016 नए मामले सामने आए हैं, जो लगभग छह महीने में सबसे अधिक हैं। इसके साथ ही देश में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 13,509 हो गई है। उत्तर प्रदेश में भी मामले बढ़ते देख योगी सरकार ने कोविड-19 को लेकर अलर्ट जारी किया है।

दरअसल, डीजी हेल्थ स्वास्थ्य ने कोरोना वायरस के मद्देनजर निर्देश जारी किए हैं। जिसमें उन्होंने कहा है कि सभी पॉजिटिव सैंपल्स की जीनोम सीक्वेंसिंग की की जाएगी। कोविड-19 टेस्टिंग के सैंपल्स को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए केजीएमयू भेजा जाएगा। इसके साथ ही अस्पतालों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी तैयार रखने के निर्देश दिए गए हैं।

इसके अलावा सरकार ने जिन जिलों में कोरोना के मामले सामने आते हैं, वहां तत्काल आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। सरकार ने अधिकारियों से बुजुर्ग मरीजों का विशेष ध्यान रखने और सावधानी बरतने को कहा है। इसके अलावा अस्पतालों में रसद, दवाइयां, पीपीई किट, दस्ताने, मास्क और UVC उपकरण, ऑक्सीजन प्लांट और कंसंट्रेटर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया की हिदायतAIRCARE MART 3 128x300 वाराणसी, इलाहबाद, लखनऊ, आगरा सहित यूपी के कई शहरों में कोरोना को लेकर अलर्ट, कोरोना रोकथाम के लिए UVC उपकरण लगाने की सलाह

बता दें, भारत में एक बार फिर कोरोना ने रफ्तार पकड़ ली है। दिल्ली और मुंबई में कोरोना के लगातार मामले बढ़ रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने शुक्रवार को देश में कोविड-19 की स्थिति को लेकर राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ समीक्षा बैठक की। स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना को लेकर किसी भी तरह की ढील नहीं बरतने की हिदायत दी।

देशभर में मॉक ड्रिल

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि सभी अस्पतालों के इन्फ्रास्ट्रक्चर की स्थिति को जांचने के लिए अप्रैल में देशभर में कोरोना की मॉक ड्रिल होगी। इसके अलावा उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से जो एडवाइजरी जारी की गई है, जिसमें कहा गया है कि पॉजिटिव मरीजों की जीनोम सीक्वेंसिंग कराई जाए और अस्पतालों में जांच इलाज की उचित व्यवस्था हो, इस एडवाइजरी के अनुसार सारे दिशा-निर्देश अस्पतालों को दिए जा चुके हैं। वहीं बात करें लखनऊ के एयरपोर्ट की तो एयरपोर्ट पर भी चौकसी बढ़ा दी गई है। संक्रमण प्रभावित देशों से यहां पर आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी।

विदेशी पर्यटकों पर होगी नजर

बनारस, ताज नगरी आगरा और मथुरा में हर साल गर्मियों में देशी- विदेशी पर्यटकों का जमावड़ा लगता है। बड़ी संख्या में पर्यटक यहां पहुंचते हैं। ऐसे में इन दोनों ही जिलों के जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की ओर से बस अड्डों, रेलवे स्टेशन और होटल से लेकर मंदिर परिसर और ताज महल के प्रवेश द्वार तक कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए कहा गया है। विदेशी पर्यटकों की स्क्रीनिंग की जाएगी। किसी में लक्षण पाए जाते हैं, तो तुरंत उन्हें आइसोलेट किया जाएगा। आगरा में ताजमहल और मथुरा में सभी मंदिर परिसरों में भी सावधानियां बरती जा रही हैं।

यूपी में एक्टिव केस का आंकड़ा पहुंचा 280 पार
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार 
के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में कोविड केसों की एक्टिव संख्या 286 है, जो कल से 58 कम है। 18 मार्च को प्रदेश में सक्रिय कोविड मरीजों की संख्या 74 थी। गाजियाबाद में भी कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में जिले में 12 नए मामले आए हैं। मार्च महीने में कुल 116 मामले सामने आए। जिलों में कुल एक्टिव केसों की संख्या 67 पहुंच गई है। 58 मरीजों का घर में इलाज चल रहा है। 7 लोग गाजियाबाद के अस्पताल और 2 लोग अन्य जगह भर्ती हैं।

%name वाराणसी, इलाहबाद, लखनऊ, आगरा सहित यूपी के कई शहरों में कोरोना को लेकर अलर्ट, कोरोना रोकथाम के लिए UVC उपकरण लगाने की सलाह
अल्ट्रावायलट-सी (यूवीसी) पराबैंगनी किरणें मानव स्वास्थ्य को नुकसान पहुँचाये बिना कोरोना कीटाणुओं को खत्म करने में अव्वल

योगी सरकार ने अधिकारियों को दिए दिशा-निर्देश
स्वास्थ्य विभाग ने कोविड मरीजों को लेकर हर स्तर पर सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि सैंपल संख्या लगातार बढ़ाई जाए। सभी जिलों के अस्पतालों में आने वाले बुखार, सांस सहित अन्य बीमारियों की मरीजों की स्क्रीनिंग की जाएगी।

जिलों की बीएसएल-2 लैब में कोविड सैंपल की जांच होगी। पॉजिटिव मरीजों के सैंपल को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए केजीएमयू लखनऊ भेजने के निर्देश जारी हुए हैं।

इन 6 जिलों में अलर्ट
वहीं, कोविड को लेकर हुई तैयारियों को परखने के लिए 11-12 अप्रैल को मॉकड्रिल हुई। इस मॉक ड्रिल का आयोजन लखनऊ, कानपुर, आगरा, प्रयागराज, गोरखपुर, वाराणसी में किया जाएगा। इन जिलों में विशेष सतर्कता बरतने के लिए निर्देश जारी किए गए हैं। साथ ही टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं।

देशभर में कोविड केस (Covid Cases in India)
वहीं, पूरे भारत की बात करें तो बीते दिन कोरोना वायरस संक्रमण के 3,095 नए मामले आए। जिसके बाद देश में अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,47,15,786 हो गई है। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 15,208 पर पहुंच गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शुक्रवार सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के मुताबिक, बीते दिन गोवा और गुजरात में एक-एक मरीज की मौत हुई है। जिसके बाद देश में मृतक संख्या बढ़कर 5,30,867 हो गई है।

भारत में संक्रमण की दैनिक दर 2.61 प्रतिशत और साप्ताहिक दर 1.91 प्रतिशत है। देश में अभी 15,208 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 0.03 प्रतिशत है।

आंकड़ों के अनुसार, मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.78 प्रतिशत है। अभी तक कुल 4,41,69,711 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि कोविड-19 से मृत्यु दर 1.19 प्रतिशत है।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This