मलारना डूंगर थाना क्षेत्र में बजरी माफियाओं का पुलिस पर हमला, पुलिसकर्मियों पर ट्रैक्टर-ट्रॉली चढ़ाने की कोशिश, बजरी से भरी 6 ट्रैक्टर-ट्रॉलियों और 6 जेसीबी मशीनों को छुड़ाकर भागे

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 09 मई, 2023 | जयपुर-सवाई माधोपुर-मलारना डूंगर : सवाई माधोपुर जिले में बजरी माफियाओं के हौसले बुलंद है। कुण्डेरा थाना क्षेत्र में सोमवार को बजरी माफिया खनिज विभाग के टीम से जब्त ट्रैक्टर-ट्रॉली और JCB मशीन छुड़ाकर ले गये। अब मलारना डूंगर थाना क्षेत्र में पुलिसकर्मियों पर ट्रैक्टर-ट्रॉली चढ़ाने की कोशिश की।

इतना ही नहीं माफिया दबंगई दिखाते हुए पुलिस की जब्त की गई एक ट्रैक्टर-ट्रॉली छुड़ाकर ले गए। हालांकि पुलिस ने मौके से बजरी से भरी एक ट्रैक्टर-ट्रॉली और माफियाओं की एक बाइक को जब्त कर पुलिस थाने पहुंचाया।

मलारना डूंगर थाने के हेड कॉन्स्टेबल मुकेश कुमार ने बताया कि पुलिस टीम अवैध बजरी परिवहन की शिकायत पर गोज्यारी गांव पहुंची थी। पुलिस जाब्ते ने बनास नदी से बजरी लेकर आ रहे दो ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को जब्त किया। पुलिस की ओर से जब्त दोनों ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को थाने लाने की कार्रवाई की जा रही थी।

बजरी माफियाओं का पुलिस पर हमला
इस दौरान बजरी माफियाओं की भीड़ इकट्ठा हो गई। यहां से बजरी माफिया ग़ालिब बेग निवासी बहतेंड जबरदस्ती बजरी से भरी एक ट्रैक्टर-ट्रॉली को छुड़ाकर ले गया। पुलिस कर्मियों ने जब ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ने का प्रयास किया। तब आरोपी गालिब बेग ने पुलिस कर्मियों पर ट्रैक्टर चढ़ाने का प्रयास किया। इस दौरान पुलिसकर्मियों ने बड़ी मुश्किल से जान बचाई।

राजकार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज
हेड कॉन्स्टेबल मुकेश कुमार ने बताया कि आरोपी गालिब के खिलाफ राजकार्य में बाधा सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद आरोपी की तलाश शुरू कर दी।

पुलिस ने मौके से दूसरे बजरी से भरे ट्रैक्टर ट्रॉली को पुलिस थाने पहुंचाया और ट्रैक्टर ड्राइवर व मालिक के खिलाफ बजरी चोरी सहित MMDR (Mines and Minerals Development and Regulation) एक्ट के तहत मामला दर्ज किया। इसी के साथ ही पुलिस ने बजरी माफियाओं की एक बाइक को भी जब्त किया है।

जानिए क्या था पूरा मामला 

भूरी पहाड़ी क्षेत्र से मिल रही अवैध खनन की शिकायतों के बाद खनिज विभाग के वरिष्ठ भू-वैज्ञानिक ए.पी. सिंह, जिला पुलिस अधीक्षक से पुलिस लाइन से 25 जवानों को साथ लेकर रविवार रात बनास नदी क्षेत्र में पहुंचे। इस दौरान खनिज विभाग के अधिकारियों के साथ पुलिस की तीन टीम रात 12 बजे नदी में जाकर छिप गए। सोमवार अलसुबह 4 बजे के बाद नदी में बजरी लेने के लिए 100 से अधिक ट्रैक्टर ट्रॉलियां आकर खड़ी हो गई। कुछ देर बाद ट्रैक्टर ट्रॉलियों में बजरी लोड करने के लिए एक स्थान पर 4 और दूसरी जगह 2 जेसीबी मशीन पहुंची।

जेसीबी मशीन बजरी खनन कर बजरी को ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में लोड कर रही थी, इसी दौरान वहां पहले से मौजूद तीनों टीमों ने अचानक छापा डालकर सभी को घेराबंदी कर पकड़ लिया। खनिज विभाग और पुलिस की टीम को देखकर बजरी खनन करने वालों में हड़कंप मच गया। बजरी कारोबार से जुड़े स्थानीय लोगों ने कार्रवाई की सूचना गांव के लोगों को देने के बाद मौके पर भीड़ जमा हो गई। इसके बाद बजरी माफियाओं ने खनिज विभाग की टीम से अवैध खनन करती पकड़ी गई 6 जेसीबी मशीन और 12 ट्रैक्टर ट्रॉलियों में से 6 ट्रैक्टर मय ट्रॉलियों और 6 जेसीबी मशीनों को छुड़ा कर ले गए।

घटना की सूचना खनिज विभाग के अधिकारियों और एलओआई धारक के प्रतिनिधि ने पुलिस अधीक्षक को दी। इसके एक घंटे बाद नदी क्षेत्र में कुंडेरा पुलिस का जाब्ता भी पहुंच गया। खनिज विभाग को अलॉटमेंट आरएसी कंपनी भी कार्रवाई के बाद जब्तशुदा वाहनों को पुलिस थाना कुंडेरा लेकर आने के लिए मौके पर पहुंची। इस दौरान जब्त किए ट्रैक्टर-ट्रॉलियों की नदी क्षेत्र में ओवरलोड बजरी ख़ाली कर बड़ी मुश्किल लाकर थानाधिकारी काे साैंपा। हालांकि खनिज विभाग की टीम ने जब्त वाहनों की जब्ती रिपोर्ट बनाने के लिए इंजन संख्या और चेचीस नम्बर भी नोट कर लिए थे।

खनिज विभाग ने ट्रैक्टर ड्राइवरों, जेसीबी मशीन ड्राइवरों व ग्रामीणों के खिलाफ राजकार्य में बाधा सहित अलग-अलग धाराओं में मुकदमा करवाया है। प्रशासन का जाब्ता पर्याप्त नहीं होने का फायदा उठाकर बजरी माफियाओं ने चारों ओर से पुलिस टीम और खनिज विभाग की टीमों का घेराव कर हंगामा करना चालू कर दिया था। बजरी माफियाओं की भीड़ बेकाबू होने के बाद स्थिति बेकाबू होते देख सवाई माधोपुर से आरएसी को बुलाना पड़ा, तब जाकर मामला शांत हुआ।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This