IPLअजब-गजब, क्वालिफाई करने के लिए कितने मैच जीतने होंगे, चीयरलीडर्स ग्लेमर की दुनिया के पीछे का सच

9 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 13 मई, 2023 | जयपुर-दिल्ली : हर साल जब भी आईपीएल आता है तो अपने साथ कई रंग लेकर आता है। जैसे विदेशी खिलाड़ियों का देसी रंग में घुलना, स्टेडियम में क्रिकेट के शोर में चीयरलीडर्स का ग्लैमर मिलना, या फिर घरेलू क्रिकेट खेल रहे खिलाड़ियों के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की जर्सी पहनने का ख्वाब देखना। आईपीएल में अपने प्रदर्शन के बूते अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय टीम में जगह पाने की कई खिलाड़ियों की कहानी आप सुनते-पढ़ते रहते हैं।

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में शुक्रवार को 5 बार की विजेता मुंबई इंडियंस (MI) ने डिफेंडिंग चैंपियन गुजरात टाइटंस (GT) को 27 रन से हरा दिया। प्लेयर ऑफ द मैच सूर्यकुमार यादव ने अपने IPL करियर का पहला शतक लगाया। उनकी पारी की बदौलत MI पॉइंट्स टेबल में नंबर-3 पर पहुंच गई।

मुंबई से हार के बाद टेबल टॉपर गुजरात के प्लेऑफ में क्वालिफाई करने का इंतजार थोड़ा और लंबा हो गया। टूर्नामेंट में शनिवार को 2 मुकाबले खेले जाएंगे। सनराइजर्स हैदराबाद और लखनऊ सुपरजायंट्स के बीच पहला मैच होगा, वहीं दिल्ली कैपिटल्स और पंजाब किंग्स के बीच दूसरा मुकाबला होगा। चारों ही टीमों को अपने दम पर प्लेऑफ की रेस में बने रहने के लिए आज के मुकाबले में जीत चाहिए।

लीग स्टेज के 57 मुकाबले खेले जा चुके हैं। टूर्नामेंट के बचे हुए 13 मैचों से प्लेऑफ के लिए 10 में से 4 टीमें तय होंगी, क्योंकि कोई भी टीम अब तक न तो क्वालिफाई कर सकी है और न ही रेस से बाहर हुई है। आगे स्टोरी में हम सभी टीमों के पॉइंट्स टेबल की सिचुएशन देखेंगे और जानेंगे कि उन्हें प्लेऑफ में पहुंचने के लिए कितने मैच जीतने होंगे।

क्वालिफाई करने के लिए कितने मैच जीतने होंगे?
IPL में पिछले सीजन से 10 टीमें शामिल की गईं, लेकिन एक टीम लीग स्टेज में ज्यादा से ज्यादा 14 मैच ही खेलेगी। ऐसे में टूर्नामेंट के इस स्टेज पर 16 से ज्यादा पॉइंट हासिल करने वाली टीम क्वालिफाई कर जाएगी। वहीं 14 से कम पॉइंट रखने वाली टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो जाएगी।

लीग स्टेज के आखिर में एक या 2 टीमें 16 पॉइंट्स के साथ भी प्लेऑफ में क्वालिफाई करेंगी, लेकिन इसके लिए उन्हें अपना रन रेट बाकी टीमों से बेहतर रखना होगा, क्योंकि टूर्नामेंट में 57 मैचों के बाद अब भी कम से कम 5 टीमें 16 पॉइंट्स के साथ लीग स्टेज फिनिश कर सकती है। ऐसे में टॉप-4 में बने रहने के लिए टीमों को रन रेट मेंटेन करना भी बेहद जरूरी है।

अब जानते हैं टीमों की सिचुएशन…

मुंबई ने अपनी राह आसान की
गुजरात टाइटंस पर 27 रन की जीत के बाद मुंबई इंडियंस पॉइंट्स टेबल में नंबर-3 पर पहुंच गई। उनके 12 मैचों में 7 जीत और 5 हार के बाद 14 पॉइंट्स हो गए हैं। प्लेऑफ में सीधे क्वालिफाई करने के लिए उन्हें अब अपने बचे हुए दोनों मुकाबले जीतने होंगे।

MI के 2 मैच लखनऊ और हैदराबाद के खिलाफ बाकी हैं। इनमें से एक भी मुकाबला हारने पर टीम को प्लेऑफ में क्वालिफाई करने के लिए अपना रन रेट बाकी टीमों से बेहतर रखना होगा। वहीं दोनों मुकाबले हारने पर टीम को अपना रन रेट तो बेहतर रखना ही होगा, साथ ही बाकी टीमों के नतीजों पर भी निर्भर रहना होगा। यानी कि लीग स्टेज के आखिर तक टीम के क्वालिफाई करने की संभावनाएं बनी हुई हैं।

गुजरात को अब भी एक ही जीत चाहिए
मुंबई से हार के बाद भी गुजरात की टीम पॉइंट्स टेबल में टॉप पर ही है। उनके 12 मैचों में 8 जीत और 4 हार के बाद 16 पॉइंट्स हैं। उनके 2 मैच हैदराबाद और बेंगलुरु के खिलाफ बाकी हैं। 2 में से एक भी मैच जीतने पर टीम प्लेऑफ में क्वालिफाई कर जाएगी।

दोनों मुकाबले हारने पर टीम को अपना रन रेट बाकी टीमों से बेहतर रखना होगा। वहीं दोनों मैच बुरी तरह हारने से टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर भी हो सकती है, क्योंकि इससे उनका रन रेट कम होगा और बेहतर रन रेट वाली टीम 16 पॉइंट्स लेकर प्लेऑफ में क्वालिफाई कर जाएगी।

%name IPLअजब गजब, क्वालिफाई करने के लिए कितने मैच जीतने होंगे, चीयरलीडर्स ग्लेमर की दुनिया के पीछे का सचलखनऊ के पास टॉप-4 में आने का मौका
लखनऊ सुपरजायंट्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच आज दोपहर 3:30 बजे से शनिवार का पहला मैच हैदराबाद में खेला जाएगा। लखनऊ इस वक्त 11 मैचों में 5 जीत, 5 हार और एक बेनतीजा मुकाबले के बाद 11 पॉइंट्स लिए हुए हैं। टीम पॉइंट्स टेबल में पांचवें नंबर पर है।

हैदराबाद को हराने पर टीम राजस्थान को पीछे कर नंबर-4 पर पहुंच जाएगी। SRH के बाद टीम के 2 मुकाबले मुंबई और कोलकाता के खिलाफ बचेंगे। तीनों मुकाबले जीतने पर टीम 17 पॉइंट्स के साथ प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई कर जाएगी। एक भी मैच हारने पर LSG को बाकी मैचों के नतीजों पर निर्भर रहना होगा। वहीं 2 या उससे ज्यादा मैच हारने पर टीम टॉप-4 की रेस से बाहर हो जाएगी।

हैदराबाद लगा सकती है 3 स्थान की छलांग
सनराइजर्स हैदराबाद की टीम इस वक्त पॉइंट्स टेबल में 9वें नंबर पर है। उनके 10 मैचों में 4 जीत और 6 हार से 8 पॉइंट्स हैं। लखनऊ के खिलाफ आज बड़े अंतर से मुकाबला जीतने पर टीम RCB को पीछे कर नंबर-6 पर आ सकती है।

LSG के बाद टीम के 3 मुकाबले गुजरात, बेंगलुरु और मुंबई के खिलाफ बाकी रहेंगे। इनमें भी जीत दर्ज करने और बेहतर रन रेट रखने पर टीम प्लेऑफ में क्वालिफाई कर जाएगी। एक भी मुकाबला हारने पर टीम को बाकी मैचों के नतीजों पर निर्भर रहना होगा। वहीं 2 या उससे ज्यादा मैच हारने पर टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो जाएगी।

आज हारने पर बाहर हो जाएगी दिल्ली
दिल्ली कैपिटल्स और पंजाब किंग्स के बीच दिल्ली में आज का दूसरा मैच खेला जाएगा। दिल्ली पॉइंट्स टेबल में सबसे नीचे है। उनके 11 मैचों में 4 जीत और 7 हार से 8 पॉइंट्स हैं। आज पंजाब को बेहतर रन रेट से हराने पर टीम नंबर-6 पर पहुंच सकती है।

पंजाब के बाद टीम के 2 मैच बाकी रहेंगे। एक फिर से पंजाब के खिलाफ और एक CSK के खिलाफ। इनमें भी जीतने और बेहतर रन रेट रखने के बाद भी प्लेऑफ में क्वालिफाई करने के लिए टीम को बाकी मैचों के नतीजों पर निर्भर रहना ही होगा। ऐसे में टीम चाहेगी कि गुजरात, चेन्नई और मुंबई अपने ज्यादा से ज्यादा मैच जीतें और इनके अलावा बाकी टीमें 12-13 पॉइंट्स से ज्यादा हासिल न कर सकें। तभी दिल्ली क्वालिफाई कर पाएगी।

पंजाब से आज हारने पर टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो जाएगी, क्योंकि टीम इसके बाद सभी मुकाबले जीतने पर भी ज्यादा से ज्यादा 12 पॉइंट्स ही हासिल कर पाएगी। जो फिलहाल टॉप-4 में बने रहने के लिए काफी नहीं है, लेकिन दिल्ली इन मुकाबलों को जीत कर बाकी टीमों की मुश्किलें जरूर बढ़ा देगी।

पंजाब को किसी भी हाल में जीत चाहिए%name IPLअजब गजब, क्वालिफाई करने के लिए कितने मैच जीतने होंगे, चीयरलीडर्स ग्लेमर की दुनिया के पीछे का सच
पंजाब किंग्स इस वक्त पॉइंट्स टेबल में 8वें नंबर पर है। 11 मैचों में 5 जीत और 6 हार के बाद उनके 10 पॉइंट्स हैं। आज दिल्ली के खिलाफ जीतने पर टीम सीधे नंबर-5 पर पहुंच जाएगी। दिल्ली के बाद टीम के 2 मुकाबले बाकी रहेंगे। 17 मई को टीम फिर दिल्ली के खिलाफ ही खेलेगी और अंत में राजस्थान के खिलाफ भी उन्हें एक मैच खेलना है।

सभी मुकाबले जीतने और बेहतर रन रेट रखने पर टीम प्लेऑफ में पहंच जाएगी। बचे हुए 3 में से एक भी मुकाबला हारने पर पंजाब को अपने रन रेट के साथ बाकी टीमों के नतीजों पर भी निर्भर रहना होगा। वहीं 2 या उससे ज्यादा मुकाबले हारने पर टीम टॉप-4 की रेस से बाहर हो जाएगी।

CSK को एक जीत चाहिए, KKR मुश्किल में
टूर्नामेंट की बाकी टीमों में चेन्नई सुपर किंग्स इस वक्त 12 मैचों में 7 जीत और एक बेनतीजा मैच से 15 अंकों के साथ पॉइंट्स टेबल में दूसरे नंबर पर है। टीम के 2 मैच बाकी हैं, इनमें से एक भी जीतने पर टीम प्लेऑफ में क्वालिफाई कर जाएगी। दोनों मैच जीतने पर टीम टॉप-2 में फिनिश कर क्वालिफायर-1 खेल सकेगी। दोनों मुकाबले हारने पर टीम को बाकी मैचों के नतीजों पर निर्भर रहना होगा।

चेन्नई से उलट कोलकाता की टीम 12 मैचों में 5 जीत और 7 हार से 10 अंकों के साथ पॉइंट्स टेबल में 7वें नंबर पर है। उन्हें क्वालिफाई करने के लिए अपने बचे हुए दोनों मुकाबलों में जीत दर्ज करने के साथ बाकी टीमों के नतीजे भी अपने पक्ष में चाहिए। वहीं एक भी मैच हारने पर टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो जाएगी।

RCB, RR की हालत एक जैसी
टूर्नामेंट की बाकी 2 टीमें राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की हालत लगभग एक जैसी है। राजस्थान के 12 मैचों में 6 जीत और 6 हार से 12 पॉइंट्स हैं। वहीं बेंगलुरु के 11 मैचों में 5 जीत और 6 हार से 10 पॉइंट्स हैं। RR नंबर-4 तो RCB नंबर-6 पर है।

दोनों ही टीमों को प्लेऑफ में क्वालिफाई करने के लिए अपने सभी मुकाबले जीतने ही होंगे। साथ ही अपना रन रेट बाकी टीमों से बेहतर रखना होगा। एक भी मुकाबला हारने पर इन्हें बाकी मैचों के नतीजों पर निर्भर रहना होगा। वहीं 2 या उससे मैच हारने पर दोनों टीमें प्लेऑफ की रेस से बाहर हो जाएंगी।

%name IPLअजब गजब, क्वालिफाई करने के लिए कितने मैच जीतने होंगे, चीयरलीडर्स ग्लेमर की दुनिया के पीछे का सचइंडियन टी-20 लीग के 12वें सीजन का आगाज हो चुका है। क्रिकेट और अनलिमिटेड रोमांच के अलावा अगर कोई चीज इस टूर्नामेंट को खास बनाती है तो वह है ग्लैमर का तड़का। बॉलीवुड हस्तियों से लेकर चीयरलीडर्स तक, ये कुछ ऐसे तत्व हैं जो इंडियन टी-20 लीग को इस देश में खेले जाने वाले दूसरे टूर्नामेंट से अलग बनाते हैं। ऐसे में आइए अपनी टीम का मनोबल बढ़ाने वाली इन चीयरलीडर्स के बारे में कुछ जरूरी बातें जानते हैं।

चीयरलीडर्स की कमाई क्या है? चीयर्सलीडर्स को एक मैच के लिए कितने रुपये मिलते हैं? और कौन सी टीम उन्हें सबसे ज्यादा पैसे देती है और कौन सी टीम सबसे कम पैसे देती है? इन सब बातों के बार में जरा विस्तार से जानते हैं।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चीयरलीडर्स को हर मैच में 6000 रुपये प्रति मैच दिए जाते हैं। साथ ही मैच जीतने पर चीयर्सलीडर्स को 3000/- रुपए और साथ ही बोनस भी दिया जाता है। इसके अलावा फ्रेंचाइजी की तरफ से आयोजित पार्टी और अपियरेंस का अलग से पैसा मिलता है। पार्टीज में अलग से परफॉर्म करने के लिए इन्हें 5000/- रुपये से लेकर 12000/- रुपये तक मिलते हैं। वहीं चीयर्सलीडर्स को अलग से 5000/- रुपये फोटोशूट के लिए भी दिए जाते है।
रिपोर्ट्स के मुताबिक कोलकाता सबसे ज्यादा मेहनताना देने वाली प्रैंचाइजी है। कोलकाता ने पिछले साल चीयर्सलीडर्स की फीस में 15% से 25% का इजाफा भी किया था। कोलकाता अपनी चीयर्सलीडर्स को हर मैच के लिए सबसे ज्यादा 12 हजार रुपये देती है। इसके बाद बैंगलोर का नंबर आता है, जो चीयर्सलीडर्स को 10000/- रुपये प्रति मैच देता है।
मैच फीस के अलावा सभी टीमें बोनस के रुप में 3000/- रुपये भी देती हैं। वहीं मुंबई की चीयर्सलीडर्स को 7000/- से 8000/- रुपये प्रति मैच मिलता है। साथ ही उनकी कमाई भी मैच फीस के आधार पर तय की जाती है। ये आंकड़े इंडियन टी-20 लीग सीजन-10 के आधार पर लिए गए हैं। हर सीजन में लगभग 10 से 20 प्रतिशत की हाइक होती रहती है। जाहिर सी बात है कि ये रकम हर मैच में बढ़ती ही रहती है।
Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This