आंधी-बारिश का राजस्थान के 27 जिलों में अलर्ट, बारां और धौलपुर में एक-एक मौत

3 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 30 जून 2023 | जयपुर-धौलपुर-बारां : राजस्थान के 27 जिलों में आंधी-बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने इन जिलों में 70 किलोमीटर की रफ्तार से आंधी चलने की भी चेतावनी दी है। इधर, राज्य में पिछले 48 घंटे में बारिश से अधिकतम तापमान में 14 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट हुई है।

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार राजस्थान में सक्रिय हुए नए पश्चिमी विक्षोभ की वजह से लगातार मौसम बदल रहा है। ऐसे में बदलाव का यह सिलसिला जून के शुरुआती सप्ताह में भी जारी रहेगा। जयपुर के चौमूं में मंगलवार देर रात मौसम बदला। तेज हवा के साथ आसपास के गांवों में बारिश का दौर शुरू हो गया। करीब आधे घंटे तक तेज बारिश हुई। खेतों में पानी भर गया। इलाके में पिछले 4-5 दिनों से हो रही बारिश से मौसम सुहावना बना हुआ है। तापमान में गिरावट से लोगों को गर्मी से राहत मिली है।

इन 27 जिलों में अलर्ट
जयपुर मौसम केंद्र के अनुसार जोधपुर, जैसलमेर, बीकानेर, अजमेर, अलवर, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, दौसा, धौलपुर, जयपुर, झुंझुनूं, करौली, कोटा, राजसमंद, सवाई माधोपुर, सीकर, सिरोही, टोंक, उदयपुर, बाड़मेर, चूरू, हनुमानगढ़, जालोर, नागौर, पाली और श्रीगंगानगर में 60 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी-तूफान चलने के साथ बारिश होने की संभावना है।

जैसलमेर में सबसे ज्यादा गिरा तापमान

बारिश के बाद जैसलमेर के अधिकतम तापमान में 14 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आई है। वहीं, बाड़मेर में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री तक गिरकर 19 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है।

1 से 3 जून तक 19 जिलों में अलर्ट

राजस्थान में सक्रिय हुए नए मौसम तंत्र का असर जून के शुरुआती सप्ताह में भी नजर आएगा। जिसकी वजह से लू के थपेड़ों की जगह ठंडी हवा लोगों को राहत देगी। 1 से 3 जून तक प्रदेश के अजमेर, अलवर, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, दौसा, धौलपुर, जयपुर, झुंझुनूं, करौली, सीकर, सिरोही, टोंक, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ़, जोधपुर, नागौर और श्रीगंगानगर में धूलभरी आंधी के साथ बारिश होने की संभावना है। बारां में आंधी के दौरान घर की छत पर कपड़े लेने गई महिला की गिरने से मौत हो गई।

बारां और धौलपुर में एक-एक मौत
धौलपुर के बसई डांग में मंगलवार रात को आंधी की वजह से खेत के ऊपर से होकर गुजर रही बिजली की लाइन टूट कर गिर गई। बिजली की लाइन की चपेट में आने से किसान राजेंद्र (35) की चीख निकल गई। लोग किसान को जिला अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

इधर, बारां में मंगलवार शाम को तेज आंधी चली। इससे कई जगह टीन-छप्पर उड़ गए। इससे काफी नुकसान हुआ है। जिले के नाहरगढ़ कस्बे में शाम को मकान की छत पर काम करते वक्त तेज आंधी से उड़कर आए टीन से महिला टकराई और छत से नीचे जा गिरी। इलाज के दौरान मौत हो गई। बालापुरा निवासी लीलाधर कुशवाहा ने बताया- उसकी पत्नी पिंकी कुशवाह (29) तेज अंधड़ के दौरान छत पर सुख रहे कपड़े उतारने गई थी। तभी हादसा हो गया।

सीकर में हुई बारिश

सीकर में बुधवार सुबह हर्ष पर्वत के ऊपर छाए घने बादल। सीकर में मंगलवार देर रात बारिश हुई। इस बारिश के बाद मौसम में ठंडक हो गई। वहीं, बुधवार सुबह एक बार फिर बादलों की आवाजाही जारी रही। फिलहाल मौसम विशेषज्ञों की मानें तो सीकर में 2 जून तक अंधड़-बारिश की संभावना है।
Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This