ऐबरा (बूंदी) राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत, ग्रामीणों में ख़ुशी की लहर, प्रेम नारायण मेहरा का विशेष सम्मान किया

3 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 07 जून 2023 | जयपुर-बूंदी-कोटा-ऐबरा : ऐबरा (बून्दी) के राजकीय स्कूल को क्रमोन्नत की मांग को लेकर आजाद समाज पार्टी कांशीराम के प्रदेश अध्यक्ष प्रोफ़ेसर राम लखन मीणा ने फरवरी 2023 में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को एक मार्मिक पत्र लिखा था। पत्र में उन्होंने लिखा था कि कितना दु:खद है कि गहलोत सरकार के ताकतवर मंत्री अशोक चांदना के क्षेत्र में सबसे पुराना स्कूल खस्ताहाल है। कई सालों से विद्यालय को क्रमोन्नत करने की माँग को राज्य सरकार नजरअंदाज करने में लगी है।

%name ऐबरा (बूंदी) राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत, ग्रामीणों में ख़ुशी की लहर, प्रेम नारायण मेहरा का विशेष सम्मान किया
प्रोफ़ेसर राम लखन मीणा द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लिखा पत्र

राज्य सरकार जल्द-से जल्द ऐबरा (बून्दी) के राजकीय स्कूल को क्रमोन्नत करें ताकि विपरीत परिस्थितियों में दूर जाकर पढ़ने वाले विद्यार्थियों को राहत मिल सके। सेकंडरी के मापदंड अनुसार नामांकन भवन खेल मैदान इंटरनेट पेयजल सभी सुविधाए उपलब्ध है।

क्या था मामला

सामाजिक न्याय सम्मेलन, नैनवा (बूंदी) के जनसंपर्क के दौरान स्थानीय युवाओं का एक प्रतिनिधिमंडल आसपा प्रदेश महासचिव इंजि. राम पाल भारतीय एवम् प्रदेश सचिव प्रेम नारायण मेहरा के नेतृत्व में प्रदेशाध्यक्ष प्रोफ़ेसर राम लखन मीणा से मिला जिन्होंने ऐबरा (बून्दी) के राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल को क्रमोन्नत की मांग की।

प्रोफसर मीणा ने मामले को गंभीरतापूर्वक सुना और तत्काल मुख्यमंत्री को इस संबंध में पत्र लिखने का आश्वासन दिया। उन्होंने अपने पत्र में लिखा कितना दु:खद है कि आपकी सरकार के ताकतवर मंत्री अशोक चांदना के क्षेत्र में सबसे पुराना स्कूल खस्ताहाल है, क्योंकि आपकी ही पार्टी के विधायक श्री राम नारायण मीणा इस स्कूल में पढ़े हैं। इनके बीच की नूरा-कुश्ती और आपसी उठापटक का खामियाज़ा स्थानीय लोग भुगत रहे हैं।

दलित-आदिवासी, पिछड़े बहुल क्षेत्र में शिक्षा का विकास नहीं होने देना चाहते मत्री
%name ऐबरा (बूंदी) राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत, ग्रामीणों में ख़ुशी की लहर, प्रेम नारायण मेहरा का विशेष सम्मान किया
प्रोफ़ेसर राम लखन मीणा द्वारा लिखे पत्र से माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत करने का आदेश

प्रोफ़ेसर मीणा ने मुख्यमंत्री को लिखा था कि ऐबरा प्राथमिक विद्यालय की स्थापना 1953 में हुई थी। यहाँ नामांकन, कक्षा कक्ष, खेल मैदान, चारदीवारी, पेयजल की कोई कमी नहीं है।

यदि कोई कमी है तो सिर्फ स्थानीय विधायक और मंत्री की है जो दलित-आदिवासी, पिछड़े बहुल क्षेत्र में शिक्षा का विकास नहीं होने देना चाहते हैं। इस विद्यालय के क्रमोन्नत होने से झुवासा, कानियेड़ा, एबरा का मजरा व बन का खेड़ा के विद्यार्थी भी लाभान्वित होंगे।

साथ ही सेकंडरी स्कूल हो जाने से यहाँ के गरीब होनहार विद्यार्थी विशेष कर यहाँ कि बालिकाएँ शिक्षित व सक्षम बनेगी। अभी बालिकाओं को सुनसान रास्ते से व बरसात के मौसम में क्षतिग्रस्त पुलिया को पार कर दूसरे स्कूल में जाना पड़ता है। यहाँ तक कि अधिकाँश बालिकाएँ बीच में ही अपनी पढ़ाई छोड़ने को मजबूर है, जो कि बेहद चिंताजनक है।

प्रोफ़ेसर मीणा ने मुख्यमंत्री जी से आग्रह किया था कि इस ऐतिहासिक स्कूल में पढ़कर अनेकों लोग विभिन्न राजकीय सेवाओं के बड़े पदों पर आसीन है, किंतु वे पे बैक टू सोसाइटी के मंत्र को भूल चुके हैं। सभी जरूरी सुविधाओं से संपन्न इस स्कूल का क्रमोन्नत होना भावी पीढ़ी के लिए वरदान साबित होगा।

राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, ऐबरा (बूंदी) को माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत

आसपा (कांशीराम) के प्रदेशाध्यक्ष प्रोफ़ेसर राम लखन मीणा द्वारा लिखे गये पत्र का त्वरित संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार ने राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, ऐबरा (बूंदी) को माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत करने के आदेश जारी कर दिये हैं।

गाँव में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी

इससे सारे गाँव में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी है, मानो गाँव की बच्चियों को मुँह माँगी मुराद मिल गयी हो। इससे गाँव के हर एक व्यक्ति के चेहरे पर मुस्कान है। ख़ुशी के इस मौके पर गाँव वालों ने डीजे बजाकर डांस किया। आजाद समाज पार्टी के प्रदेश सचिव और कोटा संभाग प्रभारी प्रेम नारायण मेहरा का ग्रामीणों ने विशेष आदर-सत्कार किया है।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This