चक्रवात बिपरजॉय ​​​​​​गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ कहर जारी, तूफान से जुड़े अपडेट्स, राजस्थान में रेड अलर्ट

4 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 15 जून 2023 | जयपुर-कच्छ-जोधपुर-बाड़मेर : चक्रवात बिपरजॉय ​​​​​​गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ से टकराना शुरू हो गया है। चक्रवात के कारण हवाएं 125 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हैं। हवाओं की रफ्तार 150 किमी प्रति घंटा तक पहुंचेगी। तेज हवाओं के कारण सौराष्ट्र और कच्छ के कई इलाकों में पेड़ और खंभे गिरने लगे हैं।

IMD का कहना है कि लैंडफॉल आधी रात तक जारी रहेगा। चक्रवात से होने वाले खतरे को देखते हुए अब तक 94 हजार से ज्यादा लोगों को तटीय इलाकों से रेस्क्यू किया गया है। बिपरजॉय चक्रवात के कारण हवाएं 125 से 150 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही हैं। चक्रवात का केंद्र कच्छ का जखौ पोर्ट है।

9 1686836609 चक्रवात बिपरजॉय ​​​​​​गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ कहर जारी, तूफान से जुड़े अपडेट्स, राजस्थान में रेड अलर्ट

15 जहाज, 7 एयरक्राफ्ट, NDRF की 27 टीमें तैयार ​​​​​
कमांडर कोस्ट गार्ड रीजन-नॉर्थ वेस्ट के इंस्पेक्टर जनरल एके हरबोला ने बताया- हमने गुजरात में 15 जहाज और 7 एयरक्राफ्ट तैयार रखे हैं। NDRF की 27 टीमें भी तैनात हैं।

मौसम विभाग के अनुसार, गुजरात के अलावा 10 अन्य राज्यों में इस तूफान का असर देखा जा रहा है। इनमें राजस्थान, महाराष्ट्र, कर्नाटक, लक्षद्वीप, केरल, असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय शामिल हैं। यहां के कई इलाकों में तेज हवाएं चल रही हैं और बारिश हो रही है।

गुजरात के खतरे वाले इलाकों में हमारे 18 रिपोर्टर तैनात हैं। हम पल-पल की खबर आप तक पहुंचा रहे हैं…
गुजरात मौसम विभाग ने दैनिक भास्कर को बताया कि यह तूफान दक्षिणी अरब सागर में बनने के बाद गुजरात तट के करीब पहुंचने तक कई बार रास्ता बदलता रहा है। इससे इसकी तीव्रता में उतार-चढ़ाव आता रहा है। अभी इसकी तीव्रता खतरनाक है। गुजरात के प्रभावित 8 जिलों से 75 हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है।

विभाग के मुताबिक, ‘यह अति गंभीर चक्रवाती तूफान है। इसकी वजह से पेड़, छोटे मकान, मिट्टी और टीन के घरों को नुकसान हो सकता है। कच्छ और सौराष्ट्र के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। इन इलाकों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है।’

तूफान से जुड़े अपडेट्स

  • गुजरात के द्वारका में NDRF की छह टीमों ने रूपेन बंदर के निचले इलाकों से 72 लोगों को रेस्क्यू किया है। इनमें 32 पुरुष, 25 महिलाएं और 15 बच्चें हैं। उन्हें NDH स्कूल में शिफ्ट किया गया है। comp 711686832032 1686837316 चक्रवात बिपरजॉय ​​​​​​गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ कहर जारी, तूफान से जुड़े अपडेट्स, राजस्थान में रेड अलर्ट
  • गुजरात के आठ तटीय जिलों में 94 हजार लोगों को अस्थायी शिविर में ले जाया गया है। अकेले कच्छ जिले से 34 हजार से ज्यादा लोगों को निकाला गया है। इसके बाद जामनगर में 10 हजार, मोरबी में 9,243, राजकोट में 6,089, देवभूमि द्वारका में 5,035, जूनागढ़ में 4,604, पोरबंदर में 3,469 और गिर सोमनाथ जिले में 1,605 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है।
  • गुजरात के साथ महाराष्ट्र और कर्नाटक में भी असर दिख रहा है। इन इलाकों में NDRF की 33 टीमें तैनात की गई हैं। कोस्ट गार्ड, आर्मी और नेवी की रेस्क्यू और रिलीफ टीमों को स्टैंडबाय पर रखा गया है। इन इलाकों में चक्रवात के गुजर जाने के बाद यातायात और बिजली व्यवस्था बहाल करने के लिए करीब 600 टीमें बनाई गई हैं।
  • पाकिस्तान में भी चक्रवात बिपरजॉय को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। वहां के मौसम विभाग के अनुसार आज सिंध के केटी बंदर से चक्रवात बिपरजॉय टकराएगा।
तूफान बिपरजॉय की वजह से गुजरात के द्वारकाधीश मंदिर को बंद कर दिया है। यह फुटेज गुरुवार सुबह की है। आपदा को टालने के लिए द्वारकाधीश मंदिर पर 2 ध्वज फहराए गए हैं।

25 साल में जून में गुजरात से टकराने वाला पहला तूफान
बिपरजॉय पिछले 25 साल में जून महीने में गुजरात के तट से टकराने वाला पहला तूफान होगा। इससे पहले 9 जून 1998 को एक तूफान गुजरात के तट से टकराया था। तब पोरबंदर के पास 166 kmph की रफ्तार से हवा चली थी।

बीते 58 साल की बात करें तो 1965 से 2022 के बीच अरब सागर के ऊपर से 13 चक्रवात उठे। इनमें से दो गुजरात के तट से टकराए। एक महाराष्ट्र, एक पाकिस्तान, तीन ओमान-यमन और छह समुद्र के ऊपर कमजोर पड़ गए।

अब फोटो-वीडियो में देखिए तूफान का असर और इससे बचाव की तैयारियां

केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला आज गुजरात के एकादश रुद्र महादेव मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे थे। इस दौरान चक्रवात के समुद्र में लहरें उठने लगीं। वे यहां से सुरक्षित निकल गए।
comp 35 1 1686831749 चक्रवात बिपरजॉय ​​​​​​गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ कहर जारी, तूफान से जुड़े अपडेट्स, राजस्थान में रेड अलर्ट
गुजरात के भुज में चक्रवात बिपरजॉय के चलते तेज हवाओं से पेड़ गिर गया। गुजरात में समुद्र से ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही हैं। द्वारका के सभी मंदिर आज श्रद्धालुओं के लिए बंद रहे। यह तस्वीर गुजरात के द्वारका में स्थित भड़केश्वर महादेव मंदिर के नजदीक की है। यहां गुरुवार सुबह 120 से 135 किमी/घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं।
comp 1 21 1686802269 चक्रवात बिपरजॉय ​​​​​​गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ कहर जारी, तूफान से जुड़े अपडेट्स, राजस्थान में रेड अलर्ट
गुजरात के जूनागढ़ तटीय इलाकों में सुबह से बारिश हो रही है। यहां समुद्र में 5 फीट तक ऊंची लहरें उठीं
comp 1 23 1686802280 चक्रवात बिपरजॉय ​​​​​​गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ कहर जारी, तूफान से जुड़े अपडेट्स, राजस्थान में रेड अलर्ट
यह फुटेज मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया की है।
comp 1 22 1686802235 चक्रवात बिपरजॉय ​​​​​​गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ कहर जारी, तूफान से जुड़े अपडेट्स, राजस्थान में रेड अलर्ट
यह फुटेज मुंबई के मरीन लाइन्स की है। यहां गुरुवार सुबह 2 से 5 फीट ऊंची लहरें उठती देखी गईं। गुजरात के साथ महाराष्ट्र और कर्नाटक में बिपरजॉय का असर दिख रहा है। इन इलाकों में NDRF की 33 टीमें तैनात की गई हैं।
Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This