चंद्रशेखर आजाद पर जानलेवा हमला, Z+ सुरक्षा और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने, धटना की न्यायिक-सीबीआई जाँच की माँग

7 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 28 जून 2023 | जयपुर-दिल्ली-सहारनपुर : उत्तर प्रदेश के देवबंद में भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) पर जानलेवा हमला हुआ है। उनकी कमर में गोली लगी है, घायल अवस्था में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के अनुसार भीम आर्मी चीफ अपनी कार से किसी कार्यक्रम में जा रहे थे। इसी दौरान उन पर जानलेवा हमला किया गया है। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जांच पड़ताल की जा रही है।

भीम आर्मी चीफ (Bhim Army Chief) चंद्रशेखर आजाद पर जानलेवा हमला होने के समय वे दिल्ली से अपने घर सहारनपुर के छुटमलपुर कस्बे जा रहे थे। हरियाणा नंबर की कार से आए हमलावरों ने चंद्रशेखर पर 4 राउंड फायरिंग की। गोली उनके पेट को छूते हुए निकल गई।

3333 1687955636 चंद्रशेखर आजाद पर जानलेवा हमला, Z+ सुरक्षा और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने, धटना की न्यायिक सीबीआई जाँच की माँगफायरिंग में आजाद की कार के शीशे भी टूट गए हैं। CCTV फुटेज में गाड़ी का नंबर HR-70D-0278 दिख रहा है। हमलावर घटना से 7 किलोमीटर दूर मिलकपुर गांव के पास स्विफ्ट डिजायर कार छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने गाड़ी बरामद कर ली है। कार विकास कुमार के नाम पर बताई जा रही है।

वारदात के बाद चंद्रशेखर को देवबंद के सरकारी अस्पताल ले जाया गया। यहां से शुरुआती इलाज के बाद सहारनपुर के जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। यहां उन्हें एक्स-रे कराने के बाद ICU में भर्ती कराया गया है। अस्पताल के बाहर समर्थकों की भीड़ लगी हुई है। पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए दबिश देना शुरू कर दिया है।

मुझे अचानक हमले की उम्मीद नहीं थी-चंद्रशेखर
वहीं, देर शाम चंद्रशेखर ने कहा, ”मुझे इस तरह के अचानक हमले की उम्मीद नहीं थी। मैं देशभर में अपने दोस्तों, समर्थकों और कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। पुलिस जल्द ही हमलावरों को पकड़ लेगी। हम अपनी लड़ाई संवैधानिक रूप से जारी रखेंगे। करोड़ों लोगों के प्यार और आशीर्वाद से मैं ठीक महसूस कर रहा हूं।”

चंद्रशेखर भीम आर्मी के संस्थापक और अध्यक्ष हैं। वह अंबेडकरवादी कार्यकर्ता और वकील हैं। आजाद, सतीश कुमार और विनय रतन सिंह ने 2014 में भीम आर्मी की स्थापना की थी।

कार्यकर्ता के घर के बाहर हुआ हमला
भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद देवबंद में संगठन के एक साथी एडवोकेट अजय के घर गए थे। अजय की मां का 2 दिन पहले निधन हो गया था। चंद्रशेखर जैसे ही अजय के घर से निकलकर अपनी कार तक पहुंचे, तभी दूसरी कार से आए हमलावरों ने उन पर फायरिंग कर दी।

अब घटना की 3 तस्वीरें देखिए-

untitled design 68 1687955365 चंद्रशेखर आजाद पर जानलेवा हमला, Z+ सुरक्षा और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने, धटना की न्यायिक सीबीआई जाँच की माँग
भीम आर्मी चीफ (Bhim Army Chief) चंद्रशेखर पर 4 राउंड फायरिंग हुई है। गोली उनके पेट को छूते हुए निकल गई। फोटो में दिख रहा है कि गोली लगने से कार की सीट में छेद हो गया है। अस्पताल में चंद्रशेखर का इलाज चल रहा है। उनके जख्म पर पट्‌टी की गई है।

पार्टी बोली- ये बहुजन मिशन मूवमेंट को रोकने का कायराना कृत्य
हमले की सूचना चंद्रशेखर के राजनीतिक दल आजाद समाज पार्टी ने ट्वीट कर दी। लिखा- देवबंद में राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद पर जानलेवा हमला हुआ है। ये बहुजन मिशन मूवमेंट को रोकने का कायराना कृत्य है। आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी, सख्त कार्रवाई और चंद्रशेखर आजाद की सुरक्षा की मांग करते हैं।

वहीं, भीम आर्मी के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रवीण गौतम ने कहा, ”जिस प्रकार से प्रदेश के अंदर माहौल बना हुआ है, चाहे वो मुस्लिम नेता हो या दलित नेता हो। उन्हें टारगेट किया जा रहा है। उन पर गोलियां चलाई जा रही हैं। यह बहुत ही निंदनीय है।”

उन्होंने कहा, ”चंद्रशेखर यूथ आइकन हैं। ये गोली उन पर नहीं, यूथ पर चली है, जो बर्दाश्त नहीं होगा। प्रदेश सरकार से कहना चाहता हूं कि चंद्रशेखर को जेड प्लस सुरक्षा दी जाए। जिन्होंने गोली चलाई है, उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाए। अगर गिरफ्तारी नहीं हुई तो देश और प्रदेश में माहौल संभालना मुश्किल हो जाएगा।”

भीम आर्मी के सहारनपुर के जिलाध्यक्ष और प्रत्यक्षदर्शी सोनी अंबेडकर ने कहा, ”कार्यक्रम से निकलते ही स्विफ्ट गाड़ी में आए लोगों ने उन पर हमला किया। जिससे उन्हें गोली भी लगी है। 3 से 4 राउंड फायरिंग हुई है। सफेद गाड़ी में 3 से 4 लोग सवार थे। गाड़ी की खिड़की खुली हुई थी। गाड़ी अनियंत्रित रूप से चल रही थी। चंद्रशेखर शायद हमलावरों को जानते हैं।”

चंद्रशेखर के समर्थक सहारनपुर जिला अस्पताल पहुंच गए हैं। इसके अलावा जिला कलेक्टर और एसएसपी घटनास्थल पहुंचे।

पुलिस बोली- CCTV में नजर आई हमलावरों की कार
हमलावरों की कार एक जगह CCTV कैमरे में नजर आई है। पुलिस ने बताया कि बदमाशों की धरपकड़ के लिए पूरे शहर में नाकाबंदी कर दी गई है। वहीं CCTV फुटेज के आधार पर बदमाशों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है।

SSP विपिन ताडा ने कहा, करीब 5:15 बजे देवबंद पुलिस को चंद्रशेखर पर फायरिंग की सूचना मिली। पुलिस के आला-अधिकारी मौके पर पहुंचे। चंद्रशेखर को अस्पताल ले गए। उनके पेट से गोली छूकर निकली है। उनकी हालत खतरे से बाहर है। चंद्रशेखर के बताए गए घटनाक्रम की जांच पुलिस कर रही है। जो घटनाक्रम बताया है और जो साक्ष्य मौके पर मिले हैं, जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। यह फुटेज सहारनपुर जिला अस्पताल का है। जब चंद्रशेखर को लेकर एम्बुलेंस पहुंची थी।

Z+ सुरक्षा और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने और धटना की न्यायिक-सीबीआई जाँच की माँग AZAD Ji page 0001 212x300 चंद्रशेखर आजाद पर जानलेवा हमला, Z+ सुरक्षा और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने, धटना की न्यायिक सीबीआई जाँच की माँग

उत्तर प्रदेश में सहारनपुर के देवबंद इलाके में भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद पर जान लेवा हमला हुआ है। वह दिल्ली से अपने घर सहारनपुर के छुटमलपुर कस्बे जा रहे थे। हरियाणा नंबर की कार से आये हमलावरों ने चंद्रशेखर पर 4-5 राउंड फायरिंग की। गोली उनके पेट को छूते हुए निकल गयी। फायरिंग में उनकी कार के शीशे भी टूट गये हैं। CCTV फुटेज में गाड़ी का नंबर HR-70D-0278 दिख रहा है।

राजस्थान आजाद समाज पार्टी (Azad Samaj Party Rajasthan) के प्रदेशाध्यक्ष प्रोफ़ेसर राम लखन मीणा (Professor Ram Lakhan Meena) का कहना है कि चंद्रशेखर आज़ाद पर सत्ता संरक्षित अपराधियों के द्वारा जानलेवा हमला घोर निंदनीय एवं कायरतापूर्ण कृत्य है। एडवोकेट चंद्रशेखर आजाद जी पर हुआ हमला एक बड़ी साजिश है। देश भर में दलित-आदिवासी, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों और महिलाओं पर हो रहे अन्याय, अत्याचार और उत्पीड़न के वे रक मात्र मुखर आवाज़ बन चुके हैं। इसलिए  विरोधी उनकी जान लेने पर उतारू हैं। उनका जीवन बहुजन समाज की धरोहर बन चुका है और वे संपूर्ण देश में गरीबों-मजलूमों की एकमात्र आवाज हैं।

प्रोफ़ेसर मीणा ने प्रेस से वार्ता करते हुए कहा ऐसे में भीम आर्मी-आजाद समाज पार्टी (कांशीराम) उनके जीवन की रक्षा के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय चंद्रशेखर आजाद जी पर हुए हमले के विरोध में पार्टी-संगठन के सभी पदाधिकारी और कार्यकर्त्ता संविधान के रक्षक के रूप में शांतिपूर्ण तरीके से स्थानीय प्रशासन को आज दिनांक 29.06.2023 को अपराह्न 12:00 बजे प्रदेश के सभी जिला एवम् तहसील मुख्यालयों (जिला कलेक्टर एसडीएम तहसीलदार कार्यालय या उनके निवास या स्थानीय पुलिस थाने) पर आर्मी चीफ व आजाद समाज पार्टी (कांशीराम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मा. चंद्रशेखर आजाद को Z+ सुरक्षा देने और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने तथा धटना की न्यायिक / सीबीआई जाँच की मांग को लेकर दिये जा रहे ज्ञापन पर समुचित कार्रवाई करें।

सपा ने प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाया
इस घटना पर ट्वीट कर समाजवादी पार्टी ने प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाया है। पार्टी ने ट्वीट में लिखा है, देवबंद में आजाद समाज पार्टी (Azad Samaj Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद पर सत्ता संरक्षित अपराधियों के द्वारा जानलेवा हमला घोर निंदनीय एवं कायरतापूर्ण कृत्य है। बीजेपी राज में विपक्षी नेता ही सुरक्षित नहीं। यूपी में जंगलराज!

वहीं, शिवपाल यादव ने भी इस घटना पर ट्वीट किया है। इसमें लिखा- प्रदेश में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि अराजक तत्व अपने सभी हदों और सरहदों को तोड़ने लगे हैं। यूपी में विपक्ष अब सत्ता और अपराधियों दोनों के निशाने पर है। भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर पर हुआ जानलेवा हमला प्रदेश के खोखले हो चुके कानून व्यवस्था के लिए एक अलार्म है। जाग जाओ सरकार! भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद की सहारनपुर के जिला अस्पताल में अपने समर्थकों और कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील की।

चंद्रशेखर ने 2015 में की थी भीम आर्मी की स्थापना
चंद्रशेखर ने 2015 में जातिगत उत्पीड़न का विरोध करने के लिए भीम आर्मी की स्थापना की। यहीं से उनका राजनीतिक करियर शुरू हुआ। 15 मार्च 2020 को उन्होंने आजाद समाज पार्टी (कांशीराम) दल की स्थापना की। यह घोषणा बहुजन समाज पार्टी के संस्थापक कांशीराम की 86वीं जयंती पर की गई थी। इस पार्टी में समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस और राष्ट्रीय लोक दल के 98 पूर्व नेता शामिल हुए।

भीम आर्मी का बेस मुख्य तौर पर यूपी में है। भीम आर्मी सहारनपुर दंगों के वक्त साल 2017 में चर्चा में आई। इसकी वजह जाति संघर्ष थी। हिंसा के आरोपों के बाद चंद्रशेखर गिरफ्तार भी हुए थे। भीम आर्मी दलित शब्द के खिलाफ है और अंबेडकरवादी सोच वालों का स्वागत करती है। यह संगठन भारत में शिक्षा के माध्यम से दलित हिंदुओं की मुक्ति के लिए काम करता है। यह पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दलितों के लिए मुफ्त स्कूल चलाता है।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

1 thought on “चंद्रशेखर आजाद पर जानलेवा हमला, Z+ सुरक्षा और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने, धटना की न्यायिक-सीबीआई जाँच की माँग”

  1. भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद जी को जेड प्लस सुरक्षा
    व अपराधियों को गिरफ्तार कर कठोर सजा दे केंद्र सरकार !

    Reply

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This