कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी-शाह की घबराहट बढ़ी

7 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 17, जुलाई 2023 | जयपुर-दिल्ली-पटना-बेंगलुरु : लोकसभा चुनाव 2024 में भाजपा को हराने के लिए बेंगलुरु में विपक्षी दलों की दूसरी बैठक से पहले कांग्रेस की ओर से विपक्ष के नेताओं को डिनर पर इनवाइट किया है। डिनर बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित किया गया। कांग्रेस पार्टी के मुताबिक, इसमें 26 दल के नेता शामिल हुए हैं।

डिनर में शामिल होने के लिए लालू प्रसाद यादव, अरविंद केजरीवाल, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन, बिहार के सीएम नीतीश कुमार समेत कई नेता पहुंचे। पार्टी में फूट के बाद शरद पवार कल सीधे बैठक में शामिल होंगे। इधर, भाजपा ने भी 18 जुलाई को शाम 4 बजे दिल्ली के अशोका होटल में NDA की बैठक बुलाई है। पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्‌डा ने कहा कि इस मीटिंग में 38 दल शामिल हो रहे हैं।

NDA की बैठक पर कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा- मुझे ताज्जुब है कि मोदी जी ने राज्यसभा में कहा था कि मैं सभी विपक्षियों पर अकेला भारी हूं। अगर वो सभी विपक्षियों पर अकेले भारी हैं तो वो कल NDA की मीटिंग में 30 पार्टियों को क्यों बुला रहे हैं। उन 30 पार्टियों का नाम तो बताएं। वे हमारी मीटिंग से घबरा गए हैं। इस बैठक से तेलंगाना CM के चंद्रशेखर राव, आंध्र प्रदेश के CM जगन मोहन रेड्‌डी, आंध्र के पूर्व CM चंद्रबाबू नायडू और ओडिशा के CM नवीन पटनायक ने दूरी बना रखी है।

comp 11 1689603249 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
कांग्रेस के डिनर प्रोग्राम में लालू प्रसाद यादव लोअर-टीशर्ट पहनकर पहुंचे।
comp 1 1689603282 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ राज्यसभा सांसद संजय सिंह भी पहुंचे।
comp 1 1 1689603271 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का होटल पहुंचने पर कर्नाटक के सीएम ने स्वागत किया।
comp 1 2 1689603259 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी डिनर में शामिल होने पहुंचे।
261689589062 1689603550 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, सोनिया गांधी और राहुल गांधी चार्टर प्लेन से बेंगलुरु पहुंचे। कर्नाटक के CM सिद्धरमैया और डिप्टी CM डीके शिवकुमार ने तीनों का स्वागत किया।
comp 96168950214416895159981689569343 1689589119 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
बेंगलुरु में विपक्षी दलों की बैठक से पहले विपक्ष के सभी बड़े नेताओं के होर्डिंग्स लगाए गए हैं।

विपक्ष की मीटिंग में शीट शेयरिंग समेत कई मुद्दों पर चर्चा होगी

  • रिपोर्ट्स के मुताबिक, विपक्ष की कल से शुरू हो रही बैठक में 2024 लोकसभा चुनाव के लिए कॉमन मिनिमम प्रोग्राम, राज्यवार गठबंधन, सीट शेयरिंग के अलावा महागठबंधन के नए नाम पर चर्चा हो सकती है।498709 98x300 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
  • ANI के मुताबिक, सभी दलों के साथ कॉर्डिनेशन के लिए एक संयोजक की नियुक्ति पर चर्चा होगी। इसके अलावा कॉमन मिनिमम प्रोग्राम समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा के लिए नेताओं का एक ग्रुप बनाने पर भी चर्चा होने की उम्मीद है।
  • सूत्रों के मुताबिक, 2004 लोकसभा चुनाव के बाद जिस तरह UPA की चेयरपर्सन सोनिया गांधी बनी थीं, उसी तरह नए महागठबंधन में भी सर्वसम्मति से ऐसी नियुक्ति हो। सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस चाहती है कि विपक्षी दलों में सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते उसे ही यह पद सौंपा जाए।
  • सोनिया गांधी के नाम पर किसी भी दल को ऐतराज नहीं होगा, क्योंकि वो प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवार नहीं होंगी। हालांकि दावा ये भी किया जा रहा है कि कांग्रेस इस पद को लेकर विवाद की स्थिति में पीछे भी हट सकती है।
  • 23 जून को विपक्ष की पटना में हुई बैठक में कुछ दलों ने नीतीश कुमार को भी संयोजन बनाने की मांग रखी थी। हालांकि इस पर बात आगे नहीं बढ़ी।

पिछली बैठक में शामिल हुए थे 17 विपक्षी दल
पहली बैठक 24 दिन पहले 23 जून को बिहार के CM नीतीश कुमार ने पटना में बुलाई थी, जिसमें 17 राजनीतिक दल शामिल हुए थे। इस बार विपक्षी कुनबे को और मजबूत करने के लिए 8 और दलों को न्योता भेजा गया है।

पहली बैठक में जनता दल यूनाइटेड (JDU), राष्ट्रीय जनता दल (RJD), आम आदमी पार्टी (AAP), द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (DMK), तृणमूल कांग्रेस (TMC), कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (CPI), कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया मार्क्सिस्ट CPM, CPI (ML), पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP), नेशनल कॉन्फ्रेंस, कांग्रेस, शिवसेना (उद्धव ठाकरे गुट), सपा, JMM और NCP शामिल हुए थे।

8 नए दलों को मिलाकर 26 पार्टियों के नेता आएंगे
इस बार विपक्षी कुनबे को और मजबूत करने के लिए 8 और दलों को न्योता भेजा गया है। इनमें ​​​​मरूमलारची द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (MDMK), कोंगु देसा मक्कल काची (KDMK), विदुथलाई चिरुथिगल काची (VCK), रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (RSP), ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML), केरल कांग्रेस (जोसेफ) और केरल कांग्रेस (मणि) ने हामी भरी है। इन नई पार्टियों में से KDMK और MDMK 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान BJP के साथ थीं।

मीटिंग में आज इन 24 दलों के नेता पहुंचे
कांग्रेस, TMC, CPI, CPM,NCP, JDU, DMK, AAP, झारखंड मुक्ति मोर्चा, शिवसेना (UTB), RJD, सपा, J&K NC, PDP, CPI (ML), RLD, IUML, केरला कांग्रेस, केरला कांग्रेस(एम), MDMK,VCK, RSP, KMDK, AIFB। इनके अलावा दो और पार्टियां मीटिंग में शामिल हो रही हैं। उनका नाम सामने नहीं आया है।

दिल्ली अध्यादेश पर कांग्रेस का साथ मिलने के बाद AAP भी जुड़ी
पहले दिल्ली के CM केजरीवाल के आने पर भी संशय बना हुआ था, लेकिन कांग्रेस ने रविवार को दिल्ली में केंद्र की तरफ से लाए गए अध्यादेश के खिलाफ AAP को समर्थन देने की घोषणा कर दी। इसके बाद केजरीवाल ने मीटिंग में शामिल होने की बात कही।

दरअसल, पहली बैठक में केजरीवाल ने दिल्ली में अफसरों के ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर केंद्र सरकार के अध्यादेश के खिलाफ कांग्रेस के स्टैंड को लेकर नाराजगी जाहिर की थी। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस ने समर्थन नहीं दिया तो वे दूसरी बैठक में नहीं आएंगे।

पटना की बैठक में शामिल 17 में से 12 दलों का प्रतिनिधित्व राज्यसभा में है। कांग्रेस को मिलाकर सभी 12 दलों ने केंद्र के अध्यादेश को लेकर AAP का समर्थन किया है। सभी पार्टियों ने राज्यसभा में इसका विरोध करने की बात कही है।

बैठक में पहुंचने वाले नेताओं की तस्वीरें…

58170723pti07172023000117a 1689599417 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल, जयराम रमेश, विवेक तन्खा और डीके शिवकुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।
58170723pti07172023000154b 1689599774 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
खड़गे, सोनिया, राहुल का स्वागत करते कर्नाटक के CM सिद्धरमैया।
58170723pti07172023000159b 1689599654 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
पटना से लालू प्रसाद यादव बैठक में शामिल होने के लिए बेंगलुरु पहुंचे।
58170723pti07172023000163b 1689599669 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी बैठक में शामिल होने पहुंचे।
58170723pti07172023000178b 1689599684 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
बेंगलुरु पहुंची ममता बनर्जी का स्वागत करते कर्नाटक के डिप्टी CM डीके शिवकुमार।
58170723pti07172023000075a 1689599695 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
तमिलनाडु के CM एम के स्टालिन भी पार्टी सांसद टीआर बालू के साथ बेंगलुरु पहुंचे।

बैठक की तैयारियों की तस्वीरें…

resize3 2 1689570084 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
ये बैठक बेंगलुरु के होटल ताज वेस्ट एंड में होगी। होटल के गेट पर लगा बैठक का बैनर।
resize4 1689570118 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
बैठक में शामिल होने वाले नेताओं की तस्वीरों वाला पोस्टर सड़कों पर लगाया गया है।
resize2 2 1689570261 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
इस होटल में आज शाम को सोनिया गांधी सभी नेताओं के लिए डिनर होस्ट करेंगीं।

23 जून को विपक्षी एकता बैठक की 5 तस्वीरें देखिए…

3 1689512356 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
बैठक के एक दिन पहले पहुंचकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लालू यादव के पैर छूकर आशीर्वाद लिया।
 1689511735 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
बैठक से पहले NCP प्रमुख शरद पवार और उनकी बेटी सुप्रिया सुले ने लालू के परिवार से मुलाकात की।
1 1689511752 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
विपक्षी एकता की बैठक में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी के साथ आई थीं।
2 1689511767 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
CM केजरीवाल ने दिल्ली में केंद्र की तरफ से लाए गए अध्यादेश को लेकर कांग्रेस से अपना रुख साफ करने को कहा।
pti06232023000149b 1689511780 कांग्रेस की विपक्षी नेताओं के साथ डिनर डिप्लोमेसी, बेंगलुरु के ताज वेस्ट एंड होटल में आयोजित डिनर, मोदी शाह की घबराहट बढ़ी
नीतीश कुमार का कहना है कि विपक्ष में प्रधानमंत्री के चेहरे को लेकर बाद में चर्चा की जाएगी।

28 राज्यों में 10 में भाजपा और 4 में कांग्रेस की सरकार
देश के 28 राज्यों में इस समय 10 राज्यों में भाजपा ने बहुमत के साथ सरकार बनाई है। वहीं, महाराष्ट्र में शिवसेना का शिंदे गुट के साथ भाजपा की सरकार है। राजस्थान, छत्तीसगढ़ सहित 4 राज्यों में कांग्रेस की सरकार है और 3 राज्यों में पार्टी का गठबंधन है।

पहली बार 1977 में विपक्षी नेता एक साथ आए, गठबंधन से बनी थी सरकार
देश में इमरजेंसी के बाद पहली बार 1977 में विपक्षी नेता एक साथ आए थे। तब मोरारजी देसाई के नेतृत्व में पहली गैर कांग्रेसी सरकार का गठन हुआ था। तब कई दल एक साथ आए थे। जयप्रकाश नारायण की पहल पर जनता पार्टी का गठन हुआ। जनता पार्टी ने चुनाव जीतकर सरकार भी बनाई, लेकिन उस चुनाव में भी प्रधानमंत्री पद के लिए किसी को चेहरा नहीं बनाया गया था।

इसके बाद जनता पार्टी ने अलग-अलग दलों के समर्थन से 1989 में वीपी सिंह के नेतृत्व में सरकार बनाई। तब भी PM के लिए कोई चेहरा आगे नहीं किया गया था। फिर 1996 में भाजपा ने अटल बिहारी बाजपेयी को चेहरा घोषित कर चुनाव लड़ा और सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। इसके साथ फिर PM फेस पर चुनाव लड़ने की परंपरा भी शुरू हो गई। 2004 के चुनाव में कांग्रेस ने छोटे-छोटे दलों के साथ मिलकर बिना चेहरे के चुनाव लड़ा था, तब UPA में मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री बने थे।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This