मुंबई-जयपुर सुपर एक्सप्रेस में फायरिंग ASIटीकाराम मीणा की हत्या, RPF के कॉन्स्टेबल ने ऑटोमैटिक राइफल से दागी गोली, दो पैसेंजर की मौत

4 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 31, जुलाई 2023 | जयपुर-मुंबई-भवानीमंडी :  जयपुर-मुंबई एक्सप्रेस में रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (RPF) के कॉन्स्टेबल ने अपनी ऑटोमैटिक राइफल से गोलियां चला दीं। गोलीबारी में आरपीएफ के एएसआई और 3 पैसेंजर की मौत हो गई है। मरने वाले एएसआई टीकाराम मीणा राजस्थान के सवाई माधोपुर में श्यामपुरा के रहने वाले थे। वे घर में इकलौते थे और 6 महीने बाद ही रिटायर होने वाले थे। जिन तीन पैसेंजर की मौत हुई, उनमें भी दो राजस्थान के रहने वाले थे। जयपुर के भट्टा बस्ती निवासी असगर अली (48) की मौत भी गोली लगने से हुई। असगर मूलत: बिहार मधुबनी का रहने वाले थे। इसके अलावा भवानीमंडी (झालावाड़) के भानपुरा निवासी कादर भाई मोहम्मद हुसैन (55) की मौत भी इस घटना में हो गई।

एक महीने पहले ही गए थे ड्यूटी पर
श्यामपुरा गांव के पूर्व सरपंच रामधन मीणा ने बताया- टीकाराम के पिता का नाम रामकरण मीणा है। इकलौते बेटे थे। एक महीने पहले ड्यूटी पर गए थे। पांच-छह महीने बाद ही रिटायर होने की बात घर पर कहकर गए थे। घर में मां भूरी देवी, पत्नी बर्फी देवी, एक बेटा और बेटी है। बेटे का नाम दिलकुश मीणा है। शादी हो चुकी है। कॉम्पिटिशन एग्जाम की तैयारी कर रहा है। बेटी पूजा की भी शादी हो चुकी है। गोली चलाने वाला कॉन्स्टेबल चेतन (बाएं) और मृतक आरपीएफ एएसआई टीकाराम मीणा (दाएं)।

14 1690788320 मुंबई जयपुर सुपर एक्सप्रेस में फायरिंग ASIटीकाराम मीणा की हत्या, RPF के कॉन्स्टेबल ने ऑटोमैटिक राइफल से दागी गोली, दो पैसेंजर की मौत

मुआवजे का ऐलान
पश्चिमी रेलवे ने बयान जारी कर मुआवजे का ऐलान किया है। पश्चिमी रेलवे ने कहा- दिवंगत एएसआई के परिजनों को 15 लाख रुपए रेलवे सुरक्षा कल्याण निधि, 15 लाख रुपए मृत्यु या रिटायरमेंट निधि से दिए जाएंगे। इनके अलावा मृतक के आश्रितों को 20 हजार रुपए अंतिम संस्कार के लिए और 65 हजार रुपए इंश्योरेंस योजना के तहत दिए जाएंगे। एएसआई टीकाराम मीणा के गांव श्यामपुरा में ग्रामीण घर से कुछ दूरी पर ही लोगों को रोक रहे हैं ताकि मीणा के परिवार वालों को सदमा न लगे।

%name मुंबई जयपुर सुपर एक्सप्रेस में फायरिंग ASIटीकाराम मीणा की हत्या, RPF के कॉन्स्टेबल ने ऑटोमैटिक राइफल से दागी गोली, दो पैसेंजर की मौत

ट्रेन के बी-5 कोच में फायरिंग
घटना पर पश्चिमी रेलवे की ओर से एएनआई पर बयान जारी किया गया। बताया- पालघर स्टेशन पार करने के बाद आरपीएफ कॉन्स्टेबल चेतन ने चलती ट्रेन के अंदर गोलीबारी कर दी। घटना महाराष्ट्र के पालघर में वापी से बोरीवली-मीरा रोड के बीच ट्रेन के कोच बी-5 में फायरिंग हुई थी। हत्या के बाद दहिसर स्टेशन के पास कॉन्स्टेबल ट्रेन से कूद गया था। मीरा रोड-बोरीवली के बीच GRP मुंबई के जवानों ने कॉन्स्टेबल को राउंडअप कर लिया है। फायरिंग में जयपुर के असगर की भी हुई मौत। मई में ही जयपुर आए थे।

%name मुंबई जयपुर सुपर एक्सप्रेस में फायरिंग ASIटीकाराम मीणा की हत्या, RPF के कॉन्स्टेबल ने ऑटोमैटिक राइफल से दागी गोली, दो पैसेंजर की मौत

मई में ही जयपुर आए थे
मृतक असगर अली के भाई अशवाक ने बताया- असगर करीब 6 साल पहले मुंबई की मस्जिद में साफ-सफाई करते थे। कोरोना में कामकाज छोड़कर अपने गांव चले गए। काम की तलाश में मई, 2022 में जयपुर आ गए। मदीना होटल भट्‌टा बस्ती के पास रहने वाले रिश्तेदार के पड़ोस में किराए से रहने लगे। यहां उनकी पत्नी उमैसा खातून (36), बेटी आमना (16), अमीना (14), साबरा खातून (12), सोफिया प्रवीण (3) और बेटे अब्दुल रहमान (5) के साथ रहते थे। जयपुर में मजदूरी कर परिवार का पालन-पोषण कर रहे थे। रोजगार को लेकर उन्होंने मुंबई स्थित मस्जिद में भी कॉल किया था। जगह खाली होने के चलते काम मिलने पर मुंबई जाना तय किया। घटना में मारे गए भवानीमंडी के भानपुरा निवासी कादर भाई मोहम्मद हुसैन मुंबई में बिजनेस करते थे।

%name मुंबई जयपुर सुपर एक्सप्रेस में फायरिंग ASIटीकाराम मीणा की हत्या, RPF के कॉन्स्टेबल ने ऑटोमैटिक राइफल से दागी गोली, दो पैसेंजर की मौत

मुंबई में हार्डवेयर का बिजनेस, मोहर्रम पर आए थे भानपुरा
फायरिंग में मरने वाले भवानीमंडी के भानपुरा निवासी कादर भाई मोहम्मद हुसैन वर्षों से मुंबई में रहकर बिजनेस करते थे। वे मुंबई जा रहे थे। बोहरा समाज के लोगों ने बताया कि कादर भाई मोहम्मद हुसैन का मुंबई के नालासोपारा क्षेत्र में हार्डवेयर का बिजनेस है। वह मोहर्रम मनाने एक सप्ताह पूर्व भानपुरा आए हुए थे। उनकी पत्नी अभी दुबई में हैं, जो मुंबई पहुंच रही हैं।

जीआरपी के जवानों ने पकड़ा
GRP मुंबई के जवानों ने कॉन्स्टेबल चेतन का पीछा कर उसे पकड़कर हथियार बरामद कर लिया। फिलहाल जीआरपी जांच में जुटी है कि जवान ने ऐसा क्यों किया? ट्रेन में अचानक हुई फायरिंग के बाद लोग दहशत में आ गए थे।जानकारी के अनुसार आरोपी कॉन्स्टेबल चेतन का गुजरात से ट्रांसफर मुंबई सेंट्रल हो गया था। ट्रांसफर को लेकर वह नाराज था। परिवार में दिक्कत को लेकर वह मानसिक रूप से परेशान चल रहा था।

दोनों थे ऑन ड्यूटी
जयपुर से मुंबई जा रही ट्रेन में एएसआई टीकाराम एस्कॉर्ट प्रभारी थे और चेतन एस्कॉर्ट ड्यूटी पर तैनात था। सोमवार सुबह करीब 5:15 बजे किसी बात को लेकर कॉन्स्टेबल का एएसआई से झगड़ा हो गया। कहासुनी के बाद गुस्साएं कॉन्स्टेबल ने सर्विस गन से फायरिंग कर दी।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This