वसुंधरा मुख्यमंत्री बनी तो किरोड़ी लाल मीणा और अर्जुन राम मेघवाल बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री

4 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 05 दिसंबर 2023 | जयपुर – दिल्ली : राजस्थान में बहुमत मिलने के साथ ही ‌BJP में CM पद की दौड़ शुरू हो गई है। राजस्थान का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इसे लेकर दिल्ली में मंथन जारी है। जयपुर में सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से 70 से ज्यादा विधायकों ने मुलाकात की। सूत्रों के हवाले से खबर है कि आगामी लोकसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए मोदी शाह खतरा मोल नहीं ले सकेंगे इसलिए वसुंधरा सीएम मुख्यमंत्री बनी तो किरोड़ी लाल मीणा और अर्जुन राम मेघवाल बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री।

इसे वसुंधरा का शक्ति प्रदर्शन माना जा रहा है। आज भी मुलाकात का यह सिलसिला जारी रह सकता है। वसुंधरा के समर्थक और 8 बार के विधायक कालीचरण सराफ ने दावा किया है कि उनसे 70 विधायकों ने मुलाकात की है। वे जहां गईं, वहां भाजपा जीती है। वसुंधरा सर्वमान्य नेता हैं।%name वसुंधरा मुख्यमंत्री बनी तो किरोड़ी लाल मीणा और अर्जुन राम मेघवाल बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी के आवास पर आज उनसे मुलाकात करने शिव से निर्दलीय विधायक रविंद्र सिंह भाटी के अलावा गोपीचंद मीणा, गोपाल शर्मा और भजन लाल शर्मा पहुंचे। जहाजपुर विधायक गोपीचंद मीणा ने कहा- केंद्रीय नेतृत्व और सीपी जोशी के नेतृत्व में प्रदेश में सरकार बनी है। सीएम कौन होगा सवाल पर बोले- संगठन सर्वोपरि है।

गोपीचंद सोमवार को वसुंधरा से भी मिलने पहुंचे थे। उन्होंने कहा था कि सीएम का चेहरा केंद्रीय नेतृत्व को तय करना है, लेकिन हमारा विश्वास वसुंधरा राजे में है। जोशी के आवास पर प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह भी पहुंचे हैं।कालीचरण सराफ वसुंधरा राजे के बेहद खास माने जाते हैं।

दूसरी ओर, आज केंद्रीय नेतृत्व विधायकों की राय जानने के लिए पर्यवेक्षकों की नियुक्ति कर सकता है। इसके साथ ही आज भाजपा के संसदीय बोर्ड की बैठक भी हो सकती है। सोमवार को प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की।

इसके बाद रात 11 बजे भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी और प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह दिल्ली से चार्टर विमान से जयपुर लौट आए। बताया जा रहा है कि मुलाकात में विधायक दल की बैठक, पर्यवेक्षकों की नियुक्ति सहित अन्य मुद्दों को लेकर चर्चा हुई।

इस बीच राज्यपाल कलराज मिश्र ने 15वीं विधानसभा भंग करने की अधिसूचना जारी कर दी है। अब नए विधायकों से 16वीं विधानसभा का गठन होगा। चुनाव आयोग ने भी प्रदेश में लगी आचार संहिता हटा ली है। दिल्ली में सोमवार को BJP प्रदेशाध्यक्ष ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करके उन्हें चुनाव परिणाम के बाद राजस्थान के घटनाक्रम की जानकारी दी।

ezgifcom resize 2023 12 05t0707220091701740263 1701750307 वसुंधरा मुख्यमंत्री बनी तो किरोड़ी लाल मीणा और अर्जुन राम मेघवाल बन सकते हैं उपमुख्यमंत्रीवसुंधरा का शक्ति प्रदर्शन आज भी रह सकता है जारी
वसुंधरा राजे के विधायकों से मिलने को उनके शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा जा रहा है। सोमवार को विधायकों से मुलाकात के बाद वसुंधरा समर्थकों ने दावा किया था कि वसुंधरा से करीब 47 विधायकों ने मुलाकात की है। आज भी कई विधायक उनसे मिलने आ सकते हैं।

वसुंधरा से मुलाकात के बाद विधायक बहादुर कोली, गोपीचंद मीणा और समाराम गरासिया ने कहा कि हमारी राय पूछी गई तो वसुंधरा पहली पसंद होंगी। इतना ही नहीं, ये भी दावा किया जा रहा है कि उनके पास 45 से ज्यादा MLA का समर्थन है।

वसुंधरा के आवास पर पहुंचे विधायक कालीचरण सराफ ने कहा- वसुंधरा राजे सर्वमान्य नेता हैं। पार्टी तय करेगी कि CM कौन होगा। पार्टी में व्यक्तिगत पसंद नहीं होती। सोमवार को सबसे ज्यादा हलचल वसुंधरा राजे के जयपुर में सिविल लाइंस स्थित बंगले पर ही रही।

ये विधायक मिलने पहुंचे थे पूर्व CM से
पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से मिलने के लिए कालीचरण सराफ, बाबू सिंह राठौड़, प्रेमचंद बैरवा, गोविंद रानीपुरिया, ललित मीणा, कंवरलाल मीणा, राधेश्याम बैरवा, कालूलाल मीणा, केके विश्नोई, विक्रम बंशीवाल आदि पहुंचे।

इनके अलावा भागचंद टाकड़ा, रामस्वरूप लांबा, प्रताप सिंह सिंघवी, गोपीचंद मीणा, बहादुर सिंह कोली, शंकर सिंह रावत, मंजू बाघमार, विजय सिंह चौधरी, समाराम गरासिया, रामसहाय वर्मा, पुष्पेंद्र सिंह राणावत, शत्रुघ्न गौतम, गजेंद्र खींवसर, गुरवीर सिंह आदि ने भी वसुंधरा के आवास पर उनसे मुलाकात की। ezgifcom resize 2023 12 05t073511766 1701741935 वसुंधरा मुख्यमंत्री बनी तो किरोड़ी लाल मीणा और अर्जुन राम मेघवाल बन सकते हैं उपमुख्यमंत्रीवसुंधरा राजे के आवास पर पहुंचे विधायक मीडिया के सवालों से बचते नजर आए।

अधीर रंजन चौधरी ने बालकनाथ की तरफ इशारा कर कहा- नए CM से मिलें
सोमवार को संसद सत्र की शुरुआत थी। अलवर सांसद बालकनाथ संसद पहुंचे तो नेता प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी ने उनकी तरफ इशारा कर कहा कि ये राजस्थान के CM बनने वाले हैं। इस पर बालकनाथ झेंप गए। बालकनाथ ने तिजारा विधानसभा सीट से जीत दर्ज की है।

CM पद की दौड़ में इनका नाम
राजस्थान के मुख्यमंत्री के पद की रेस में फिलहाल वसुंधरा राजे के अलावा सीनियर नेता ओम प्रकाश माथुर, गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, दीया कुमारी, प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी, केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव, भूपेंद्र यादव, बाबा बालकनाथ और डॉ. किरोड़ीलाल मीणा के नाम चल रहे हैं।

ये बन सकते हैं नए मंत्री
किरोड़ी लाल मीणा, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, भजनलाल, अजय सिंह किलक, जितेंद्र गोठवाल, पुष्पेंद्र सिंह बाली, बाबू सिंह राठौड़, गजेंद्र सिंह खींवसर, वासुदेव देवनानी, कालीचरण सराफ, अनिता भदेल, बाबूलाल खराड़ी, मदन दिलावर, सुमित गोदारा, जोगेश्वर गर्ग, कुलदीप धनखड़, हंसराज पटेल। राजेंद्र राठौड़, सतीश पूनिया और सुभाष महरिया को संगठन का काम या बोर्ड अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This