आईएएस साक्षात्कार मार्गदर्शन, नॉलेज नहीं पर्सनैलिटी का टेस्‍ट है सिविल सर्विस इंटरव्‍यू , DAF के हर पॉइंट पर रिसर्च करें

21 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 15 जनवरी 2024 | जयपुर – दिल्ली – मसूरी : आईएएस अधिकारी (IAS officer) बनने की चाहत रखने वालों के लिए यूपीएससी साक्षात्कार (UPSC Interview) एक महत्वपूर्ण कदम है। यह न केवल यह जांचता है कि आप क्या जानते हैं, बल्कि यह भी जांचता है कि आप कितना अच्छा सोचते हैं और आप सिविल सेवा नौकरियों के लिए उपयुक्त हैं या नहीं।

इस साक्षात्कार के लिए तैयार होने के लिए, आपको विभिन्न विषयों के बारे में बहुत कुछ जानना होगा और अपने विचारों के बारे में स्पष्ट रूप से बात करने में सक्षम होना होगा। साक्षात्कार के प्रश्न आपके ज्ञान, आपके मूल्यों और आप कैसे निर्णय लेते हैं, इसकी जांच करने के लिए बनाए जाते हैं – ये सभी एक सिविल सेवक के लिए महत्वपूर्ण हैं।

इन साक्षात्कारों में, यह केवल तथ्यों को जानने के बारे में नहीं है; यह यह दिखाने के बारे में है कि आप कौन हैं। प्रश्न दुनिया में क्या हो रहा है से लेकर पेचीदा परिस्थितियों तक, जहां आपको यह तय करना है कि क्या सही है, कुछ भी हो सकता है। इससे यह सुनिश्चित होता है कि चुने गए लोग न केवल स्मार्ट हैं बल्कि सिविल सेवाओं में काम करने के लिए उनका रवैया भी सही है।

सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी में आपका अंतिम रूप से चयन और आपकी रैंक निर्धारित करने में इंटरव्यू बड़ी भूमिका निभाता है। यद्यपि इंटरव्यू (व्यक्तित्व परीक्षण) के अंक 275 हैं, पर अभ्यर्थियों को प्राप्त अंकों में काफी अंतर होता है। इंटरव्यू की तैयारी के संबंध में कुछ अभ्यर्थी यह भी मानते हैं कि भला इंटरव्यू की तैयारी की जरूरत ही क्या है?

आप जैसे हैं, जो कुछ भी जानते हैं, उसी आधार पर इंटरव्यू दे आइए। चूँकि इंटरव्यू दरअसल एक व्यक्तित्व परीक्षण है और कोई भी व्यक्ति रातोंरात अपने व्यक्तित्व में आमूल-चूल परिवर्तन या सुधार नहीं कर सकता है। किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व का निर्माण कुछ दिनों या महीनों में नहीं होता है। बचपन से लेकर आज तक की पढ़ाई, परवरिश और अनुभवों से मिलकर किसी का समग्र व्यक्तित्व निर्मित होता है।

पर इसमें भी कोई संदेह नहीं है कि मुख्य परीक्षा के बाद मिलनेवाले समय में अभ्यास और परिश्रम से व्यक्तित्व को कुछ निखारा और सँवारा तो जा ही सकता है। अतः मेरी यह व्यक्तिगत सलाह होगी कि इंटरव्यू की तैयारी में कुछ समय जरूर दें।

1. नॉलेज नहीं, पर्सनैलिटी का टेस्‍ट है इंटरव्‍यू

सिविल सर्विसेज एग्जाम के फाइनल स्टेज को इंटरव्यू नहीं बल्कि पर्सनैलिटी टेस्ट कहना ज्यादा सही है। एग्जाम के नॉलेज पार्ट में सफल होने के बाद ही आप इंटरव्‍यू तक पहुंचे हैं, इसलिए इंटरव्‍यू एक एडमिनिस्ट्रेटर के तौर पर आपकी काबिलियत और पर्सनैलिटी का टेस्ट होता है। M UPSC Interview2023 300x193 आईएएस साक्षात्कार मार्गदर्शन, नॉलेज नहीं पर्सनैलिटी का टेस्‍ट है सिविल सर्विस इंटरव्‍यू , DAF के हर पॉइंट पर रिसर्च करें आमतौर पर इंटरव्यू पैनल में 4 से 5 मेंबर ही होते हैं। इंटरव्यू को तीन स्टेज में बांटा जा सकता है।

फर्स्ट स्टेज: इस स्टेज में पैनल आपको सहज करने के लिए हल्की-फुल्की बातचीत करता है। इस दौरान वो आपसे बेसिक सवाल करते हैं जैसे आप कैसे हैं, अपने बारे में कुछ बताइए, आपने ये फिल्म या ये स्पोर्ट्स इवेंट देखा या नहीं।

सेकंड स्टेज: बातचीत के लिए फ्लो सेट होने के बाद ही वो DAF पर आते हैं। इस दौरान आपसे करेंट अफेयर्स, आपके ग्रेजुएशन सब्जेक्ट या DAF में मौजूद किसी भी पॉइंट से जुड़े सवाल किए जा सकते हैं।

थर्ड स्टेज: आखिरी स्टेज में किसी भी सिचुएशन या क्राइसिस पर आपके नजरिए, आपके विचारों और सोच को जानने के लिए सिचुएशन बेस्ड सवाल किए जाते हैं। इस दौरान आपसे पूछा जा सकता है कि अगर कहीं आग लगी हो और वहां आपकी पहचान के लोग भी फंसे हों, तो आप दोस्तों और अनजान लोगों के बीच पहले किसकी मदद करेंगे।

इसके अलावा लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखने की आपकी काबिलियत और डिसीजन मेकिंग चेक करने के लिए भी आपको कोई सिचुएशन दी जा सकती है।

2. DAF के हर पॉइंट पर रिसर्च करें

इंटरव्यू में आपके DAF यानी डिटेल्ड एप्लिकेशन फॉर्म की वैल्यू गीता या बाइबिल के बराबर है। इंटरव्‍यू की शुरूआत आपके DAF से जुड़े सवालों से ही होगी। आपकी हॉबी, एजुकेशन बैकग्राउंड, पेरेंट्स का प्रोफेशन, पिछला वर्क एक्सपीरियंस, आपका जिला और बाकी हर जानकारी से सवाल पूछे जाएंगे जिनका जवाब देने के लिए आपको खुद को अच्‍छे से तैयार रखना होगा।

  • अगर आपने हॉबी में लिखा है कि आपको ट्रेकिंग करना पसंद है तो आपको अपना आखिरी ट्रेक, साथ ही देश में या आपके एरिया में होने वाली ट्रेकिंग से अपडेट रहना होगा। आपने किस शहर में, कितनी उंचाई पर और कितने समय में ट्रेक कंप्लीट किया, ट्रेकिंग और हाईकिंग में क्या अंतर होता है ऐसी हर डिटेल आपको पता होनी चाहिए।
  • जब आपसे आपके DAF से जुड़ा कोई ऐसा सवाल पूछा जाए जिसके लिए आप तैयार न हों, तो उन्हें बातों में घुमाने की बजाय साफ-साफ एक्सेप्ट कर लें कि आपको इस बारे में पता नहीं है या आप ये कॉन्सेप्ट भूल चुके हैं।
  • मैं इंजीनियरिंग बैकग्राउंड से था इसलिए इंटरव्‍यू पैनल ने मुझसे इंजीनियरिंग से जुड़ा एक सवाल पूछ दिया। मुझे उसका जवाब नहीं पता था। ऐसे में मैने पैनल को ये बता दिया था कि मुझे इंजीनियरिंग की डिग्री पूरी किए काफी समय हो चुका है और मैं कुछ कॉन्सेप्ट्स भूल गया हूं।
  • DAF के अलावा नेशनल, इंटरनेशनल और रीजनल न्यूज में एग्जाम के लिए जरूरी टॉपिक्स को भी अच्छी तरह तैयार करें। कोशिश करें कि आपको हर जरूरी टॉपिक का बैकग्राउंड और उससे जुड़े प्लस-माइनस मालूम हो। इंटरव्यू देने से पहले अपने ग्रेजुएशन सब्जेक्ट्स और ऑप्शनल सब्जेक्ट को भी अच्छी तरह तैयार कर लें।
  • 2-3 से ज्यादा मॉक इंटरव्यू न दें। ज्यादा मॉक इंटरव्यू देने से आपको बार-बार मल्टीप्ल फीडबैक मिलेंगे। सिर्फ इंटरव्यू के लिए खुद को फेक तरीके से प्रेजेंट करने की बजाय अपने DAF पर काम करें। आप जैसे रियल लाइफ में हैं, पैनल के सामने भी वैसे ही जाएं।

3. इंटरव्यू बोर्ड से आप कुछ छुपा नहीं सकते हैं 

इंटरव्यू दो शिफ्टों में होते हैं सुबह और दोपहर बाद। जब आप संघ लोक सेवा आयोग के दिल्ली स्थित मुख्यालय में इंटरव्यू देने जाते हैं, तो सबसे पहले आपके मूल दस्तावेजों (जो माँगे गए हैं), की जाँच होती है। अंतिम वक्त के ऊहापोह से बचने के लिए दस्तावेज ठीक से व्यवस्थित करके ले जाएँ। बोर्ड के सम्मुख आपका इंटरव्यू शुरू होने से कुछ देर पहले आपको एक हॉल में आपकी टेबल पर बैठाया जाता है, जहाँ कुछेक अभ्यर्थी और भी होते हैं। उनसे बहुत ज्यादा डिस्कशन के चक्कर में न पड़ें। हाँ, सहज होने के लिए परिचय और मुसकानों का आदान-प्रदान किया जा सकता है। यह कतई न सोचें कि यह अमुक अभ्यर्थी कितना क्वालिफाइड है और मुझे तो इसकी अपेक्षा कुछ नहीं आता है।

अब बारी आती है आपके इंटरव्यू की

  1. कक्ष में प्रवेश करें और अनुमति लेकर सहज रूप से बैठ जाएँ। न तो ज्यादा झुकें और न ही ज्यादा अकड़कर बैठें।
    इंटरव्यू को फेस करते वक्त आपका माइंडसेट बहुत ज्यादा स्टीरियो टाइप या बहुत ज्यादा मैकेनिकल नहीं होना चाहिए। सहजता जरूर होनी चाहिए। ‘You are what you are’ इसलिए आप जैसे हैं, वैसे जाएँ और सहजता के साथ जाएँ।
  2. इस बात का खास खयाल रखें कि इंटरव्यू बोर्ड के मेंबर्स को ब्लफ करने या बहकाने की बिल्कुल कोशिश न करें। वे बहुत ही अनुभवी लोग होते हैं. उनको किसी बात की गलत जानकारी देकर आप आगामी सवालों में फँस सकते हैं। उनका इस मामले में एक्सपीरिएंस काफी लंबा होता है. दिखावा न करें, सहज रहें।
    ध्यान रहे कि सवालों का जवाब देते समय एक संतुलित अप्रोच अपनाएँ।
  3.  एक बेहद महत्त्वपूर्ण बात यह है कि इंटरव्यू बोर्ड के जो भी सदस्य आपसे सवाल पूछ रहे हैं, उनके सवाल को ध्यानपूर्वक और धैर्य के साथ सुनें। यदि आप सवाल समझ नहीं पाए हैं तो आप विनम्रतापूर्वक दोहराने का आग्रह कर सकते हैं। कृपया सवाल पूरा होने से पहले उत्तर देना शुरू करने की भूल कतई न करें।
  4. विनम्रता का गुण इंटरव्यू के दौरान बहुत काम आता है। विनम्रता का गुण सचमुच अमूल्य है। पर अतिशय विनम्रता दीनता न बन जाए, इसका भी ध्यान रखें।
  5.  यदि किसी सवाल के बारे में कोई भी आइडिया या क्लू नहीं लग रहा है तो विनम्रतापूर्वक स्वीकार लें कि आपको इस मुद्दे की जानकारी नहीं है। पर यदि अपनी थोड़ी-बहुत समझ है तो बोर्ड की अनुमति लेकर उत्तर देने की कोशिश करें। कहने का अर्थ है कि एकदम से give up न करें।
  6. इंटरव्यू के दौरान आप स्पष्ट आवाज में बोलें। न बहुत तेज और न बहुत धीमी और हाँ, किसी उत्तर के जवाब में अति उत्साहित न हो जाएँ। नर्वस तो बिल्कुल न हों। ऐसे अनेक अभ्यर्थी होते हैं, जिन्हें इंटरव्यू के दौरान लगता है कि उनका इंटरव्यू ठीक नहीं चल रहा है; पर बाद में परिणाम आने पर उन्हें अच्छे अंक प्राप्त हो जाते हैं. अतः हल्की सी मुस्कान बनाए रखें।

4. आपको प्रेशर में डाल सकता है इंटरव्‍यू पैनल

जब कोई पैनल मेंबर आपसे लगातार किसी ऐसे टॉपिक पर बात करने की कोशिश करें जिसके बारे में आप ठीक से न जानते हैं, तो जवाब देने के साथ सॉरी, मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है कहना न भूलें। कई बार बोर्ड मेंबर्स सिर्फ ये देखने के लिए आपसे मुश्किल सवाल कर लेते हैं कि आप प्रेशर में या गुस्से में कैसे रिएक्ट करेंगे। ऐसे में विनम्र रहें।

5. अपनी ताकत और कमजोरियों की लिस्‍ट बनाएं

इस टेस्ट में सफलता हासिल करने के लिए सबसे जरूरी है खुद को समझना। इंटरव्यू स्टेज में सफल होने के लिए अपनी ताकत और कमजोरी को पहचाने और इसकी एक लिस्ट बनाएं। इंटरव्यू के दौरान पैनल से बातचीत करते हुए अपनी पर्सनैलिटी के सबसे स्ट्रॉन्ग पॉइंट्स का इस्तेमाल करने की कोशिश करें। उदाहरण के लिए अगर आपको लगता है कि आपका सेंस ऑफ ह्यूमर अच्छा है यानी आप आसानी से हंसी-मजाक कर लेते हैं तो पैनल के सामने माहौल हल्का करने के लिए अपनी इस खूबी का इस्तेमाल करें।

कुछ बुनियादी आईएएस साक्षात्कार प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 1: अपना संक्षिप्त परिचय दें।

कैसे दें जवाब: आईएएस इंटरव्यू में इस सवाल का जवाब देते समय आत्मविश्वास के साथ सभी विवरणों का उल्लेख करना चाहिए, जिसमें व्यक्तिगत विवरण, शैक्षिक योग्यता, पेशेवर जीवन आदि शामिल हैं।

उत्तर सटीक होना चाहिए और आपके द्वारा पैनल को प्रदान किए गए बायोडाटा के अनुरूप होना चाहिए। आप वास्तविक साक्षात्कार के लिए जाने से पहले कुछ आईएएस मॉक साक्षात्कार लेकर आत्मविश्वास के साथ ऐसे प्रश्नों का उत्तर देने में दक्षता हासिल कर सकते हैं।

Q2: मुझे अपनी ताकत और कमजोरियों के बारे में बताएं।

यह उन आईएएस साक्षात्कार प्रश्नों में से एक है जो साक्षात्कार पैनल आम तौर पर उम्मीदवार की ईमानदारी के स्तर की जांच करने के लिए पूछता है और वह खुद को कितना बेहतर जानता है। ईमानदारी वह प्रमुख गुण है जो एक आईएएस अधिकारी के पास सभी ज्ञान होने के अलावा होना चाहिए।

कैसे दें जवाब: आईएएस इंटरव्यू में पूछे गए लगभग हर सवाल का जवाब देते समय अपने जवाब के प्रति हमेशा ईमानदार रहें। चूँकि इस दुनिया में कोई भी व्यक्ति पूर्ण रूप से पैदा नहीं होता है, हर किसी की अपनी खूबियाँ और खामियाँ होती हैं, इसलिए अपनी ताकत और कमजोरियाँ बताने में संकोच न करें। ऐसे सवालों का जवाब हमेशा आत्मविश्वास के साथ दें।

Q3: आप आईएएस अधिकारी क्यों बनना चाहते हैं?

यह आईएएस साक्षात्कार में पूछे जाने वाले मानक लेकिन सबसे पेचीदा प्रश्नों में से एक है। इस प्रश्न के पीछे का विचार एक उम्मीदवार के विचारों की स्पष्टता और उसके आईएएस अधिकारी बनने के सपने से जुड़ी प्रेरणा की जांच करना है।

कैसे उत्तर दें: इस आईएएस साक्षात्कार प्रश्न का इससे बेहतर कोई उत्तर नहीं है क्योंकि प्रत्येक उम्मीदवार के पास इस अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न का उत्तर देने के लिए एक पूरी तरह से अलग कहानी होती है।

इसलिए इंटरव्यू पैनल को प्रभावित करने के लिए इस उत्तर को पहले से तैयार करना बेहतर है। आप वास्तविक आईएएस साक्षात्कार के लिए जाने से पहले अपने उत्तरों को बेहतर बनाने के लिए कुछ उपलब्ध आईएएस मॉक साक्षात्कारों में से कुछ ले सकते हैं।

Q4: आपने XYZ विषय को अपने वैकल्पिक के रूप में क्यों चुना?

साक्षात्कार पैनल आम तौर पर आपके स्नातक के क्षेत्र से अलग ऐसे वैकल्पिक विषय को चुनने के पीछे आपके विचार का पता लगाने के लिए यह प्रश्न पूछता है।

कैसे उत्तर दें: आईएएस साक्षात्कार में पूछे जाने पर इस प्रश्न का उत्तर देने के लिए, बस ईमानदार और स्पष्ट रहें और उन्हें अपने अलग दृष्टिकोण के पीछे का सटीक कारण बताएं।

प्रतिष्ठित आईएएस साक्षात्कार में किताबी ज्ञान के अलावा उम्मीदवार की सोच के स्तर का भी परीक्षण किया जाता है।

यह यह जांचने के लिए है कि कुछ कार्यों और समस्याओं को हल करने के लिए कोई कैसे आउट-ऑफ़-द-बॉक्स समाधान खोजने के बारे में सोच सकता है। तो आइए कुछ सबसे पेचीदा आईएएस साक्षात्कार प्रश्नों और उनके उत्तरों की जांच करें ताकि उन्हें समझ सकें।

Q5: क्या आप वास्तविक दिनों का उपयोग किए बिना लगातार तीन दिनों के नाम बता सकते हैं?

कैसे उत्तर दें: मैं शर्त लगा सकता हूं कि ज्यादातर लोग आईएएस साक्षात्कार में पूछे गए इस प्रश्न का उत्तर देने में विफल रहते हैं। खैर, यह आमतौर पर जटिल होता है यदि आप आउट-ऑफ़-द-बॉक्स विचारक नहीं हैं या आम तौर पर इस प्रकार के प्रश्नों के लिए नए हैं। आप अभ्यास के साथ धीरे-धीरे ऐसे प्रश्नों के स्तर को अपना सकते हैं।

इस प्रश्न का उत्तर कल, आज और कल होगा।

IAS Interview Questions with Answers in Hindi ias 300x153 आईएएस साक्षात्कार मार्गदर्शन, नॉलेज नहीं पर्सनैलिटी का टेस्‍ट है सिविल सर्विस इंटरव्‍यू , DAF के हर पॉइंट पर रिसर्च करें

आईएएस साक्षात्कार में विनम्र व्यवहार के साथ-साथ शांत और आत्मविश्वासी व्यवहार, उम्मीदवार के लिए उच्च अंक प्राप्त करने का सबसे अच्छा मौका प्रदान करता है। एक विनम्र उम्मीदवार जो अपने दृष्टिकोण में शांत और आत्मविश्वासी है, उसके पास उच्च अंक प्राप्त करने का सबसे अच्छा मौका है। उम्मीदवार नीचे उत्तर के साथ विस्तृत आईएएस साक्षात्कार प्रश्न देख सकते हैं।

आईएएस साक्षात्कार प्रश्न 1: आप सिविल सेवाओं में क्यों शामिल होना चाहते हैं?

उत्तर: सिविल सेवाओं में प्रवेश करने का मूल कारण देश की सेवा करना, लोगों की सेवा करना और समाज में सकारात्मक बदलाव लाना है। आईएएस अधिकारी नीतियों, विकासात्मक गतिविधियों और प्रशासन के नियमों के लिए भी जिम्मेदार होता है।

वह केंद्र और राज्य दोनों सरकारों के प्रशासनिक मामलों को संभालने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है और हमारे देश के सरकारी मंत्रालयों, उच्च विभागों और महत्वपूर्ण सामाजिक-आर्थिक संस्थानों का नेतृत्व भी कर सकता है और अंतरराष्ट्रीय, द्विपक्षीय या बहुपक्षीय मंचों पर हमारे देश का प्रतिनिधित्व कर सकता है।

आईएएस साक्षात्कार प्रश्न 2: आप एक आईएएस अधिकारी के रूप में समाज में योगदान करने की योजना कैसे बनाते हैं?

उत्तर: एक आईएएस अधिकारी के रूप में, मेरा प्राथमिक लक्ष्य समाज की बेहतरी और लोगों के कल्याण की दिशा में काम करना होगा। मैं उन नीतियों और योजनाओं को लागू करने के लिए जिम्मेदार रहूंगा जो समाज के हाशिए पर पड़े वर्गों को लाभान्वित करती हैं। मैं यह सुनिश्चित करने की दिशा में काम करूंगा कि ये नीतियां प्रभावी हों और लक्षित लाभार्थियों तक पहुंचे। मैं यह सुनिश्चित करने की दिशा में काम करूंगा कि सरकारी प्रक्रियाएं और निर्णय लेना पारदर्शी और जनता के प्रति जवाबदेह हो।

आईएएस साक्षात्कार प्रश्न 3: पिछले तीन दशकों में सिविल सेवा कैसे बदली है, और उन परिवर्तनों का क्या महत्व है?

उत्तर: पिछले तीन दशकों में सिविल सेवा में कई परिवर्तन हुए हैं। 1990 के दशक के उत्तरार्ध में सुधारों ने सरकारी पारदर्शिता और सूचना तक पहुँच को बढ़ाते हुए भ्रष्टाचार को कम करने में मदद की। इस सदी में, सरकार ने मौजूदा कर्मियों की प्रक्रियाओं को अद्यतन करने में मदद की और दक्षता में सुधार के लिए कुछ नीतियों में सुधार किया। इन परिवर्तनों के साथ, महत्वपूर्ण राष्ट्रीय मुद्दों को संबोधित करने और जनसंख्या को शामिल करने के लिए सिविल सेवा के लिए कई नए अवसर हैं। हालांकि वे संख्या में कम हो सकते हैं, केंद्र सरकार के उचित कामकाज के लिए भारतीय प्रशासनिक सेवा जैसे सरकारी कार्यालय महत्वपूर्ण हैं।

यह भी पढ़ें : टॉपर्स से पूछे 25 सर्वश्रेष्ठ आईएएस साक्षात्कार प्रश्न और उत्तर, किताबी कीड़ा होना जीवन में सफलता की कोई गारंटी नहीं

आईएएस साक्षात्कार के लिए तैयारी की रणनीति

आईएएस साक्षात्कार को पास करना अंतिम बाधा है, जिसे उम्मीदवारों को भारतीय सिविल सेवा का हिस्सा बनने के लिए पार करना होगा। साक्षात्कार सिविल सेवा में कैरियर के लिए उम्मीदवार के व्यक्तित्व, ज्ञान और योग्यता का परीक्षण है। यहां कुछ युक्तियां दी गई हैं जो आईएएस साक्षात्कार प्रश्नों को हल करने में आपकी सहायता कर सकती हैं,

  • करंट अफेयर्स से अपडेट रहें: आईएएस साक्षात्कार उम्मीदवार के ज्ञान और करंट अफेयर्स के बारे में जागरूकता का परीक्षण करने के बारे में है। समाचार पत्रों, पत्रिकाओं को पढ़कर और समाचार चैनलों को देखकर उम्मीदवारों को नवीनतम विकास और घटनाओं के साथ अवगत रहना चाहिए। उन्हें महत्वपूर्ण घटनाओं, सरकारी नीतियों और सामाजिक मुद्दों के बारे में पता होना चाहिए।
  • डीएएफ पर ध्यान दें: आईएएस साक्षात्कार के दौरान यह सबसे महत्वपूर्ण दस्तावेज होता है। अधिकांश आईएएस साक्षात्कार प्रश्न यहाँ से उठाए जाते हैं। अपने UPSC DFA को कई बार संशोधित करें और शौक, शिक्षा, कार्य अनुभव, सेवा वरीयता आदि जैसे क्षेत्रों से प्रश्नों के लिए अच्छी तरह से तैयारी करें।
  • आत्मविश्वास रखें: यदि आप अपने विश्वासों, उत्तरों या समाधानों के बारे में निश्चित हैं, तो उन्हें आत्मविश्वास से व्यक्त करें।
  • आत्मविश्वासी बनें: आत्मविश्वास किसी भी साक्षात्कार को क्रैक करने की कुंजी है और आईएएस साक्षात्कार भी इससे अलग नहीं है। साक्षात्कार के दौरान उम्मीदवारों को शांत, रचित और आत्मविश्वासी रहना चाहिए। उन्हें स्पष्ट रूप से और दृढ़ विश्वास के साथ बोलना चाहिए और हड़बड़ाहट या बहुत वाचाल होने से बचना चाहिए।
  • सकारात्मक रहें: आईएएस साक्षात्कार एक नर्वस-ब्रेकिंग अनुभव हो सकता है, लेकिन उम्मीदवारों को सकारात्मक रहना चाहिए और किसी भी कठिन प्रश्न या नकारात्मक प्रतिक्रिया से निराश नहीं होना चाहिए। उन्हें इसे सीखने के अनुभव के रूप में लेना चाहिए और अगले दौर में अपने प्रदर्शन में सुधार करना चाहिए।

यहां आपके लिए सर्वोत्तम आईएएस प्रश्नों और उत्तरों से भरा एक बैग है, ताकि आप अपने आगामी आईएएस साक्षात्कार के लिए बिना किसी देरी के अभ्यास शुरू कर सकें। तो बस आईएएस अधिकारी बनने के अपने सपने को हकीकत में बदलने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करें।

2024 के लिए आईएएस साक्षात्कार युक्तियाँ

आपके आईएएस साक्षात्कार के दौरान चमकने में मदद के लिए यहां कुछ आवश्यक सुझाव दिए गए हैं:

बख्शीश विवरण
विश्वास रखें आंखों से संपर्क बनाए रखें, स्पष्ट रूप से बोलें और अपनी प्रतिक्रियाओं में आत्मविश्वास दिखाएं।
सूचित रहें अपना ज्ञान प्रदर्शित करने के लिए समसामयिक मामलों, सरकारी नीतियों और वैश्विक घटनाओं से अवगत रहें।
मॉक इंटरव्यू का अभ्यास करें दोस्तों या गुरुओं के साथ अभ्यास करके साक्षात्कार प्रक्रिया से खुद को परिचित करें।
शारीरिक भाषा मायने रखती है अपनी बॉडी लैंग्वेज पर ध्यान दें. स्वाभाविक रूप से संयमित मुद्रा और हावभाव बनाए रखें।
ईमानदार और प्रामाणिक बनें प्रश्नों का सच्चाई से उत्तर दें और अपने वास्तविक व्यक्तित्व को चमकने दें।
अपने डीएएफ पर ध्यान दें अपने विस्तृत आवेदन पत्र (डीएएफ) को अच्छी तरह से जान लें, क्योंकि इसके आधार पर प्रश्न पूछे जा सकते हैं।
बोलने से पहले सोचो जटिल प्रश्नों का उत्तर देने से पहले अपने विचार एकत्र करने के लिए कुछ समय निकालें।
अपने वैकल्पिक विषय का पुनरीक्षण करें यूपीएससी मुख्य परीक्षा में अपने चुने हुए वैकल्पिक विषय से संबंधित प्रश्नों का उत्तर देने के लिए तैयार रहें।
पढ़ें और अपने शौक पर विचार करें यदि आपसे आपके शौक के बारे में पूछा जाए, तो उन पर इस तरह से चर्चा करने के लिए तैयार रहें जो आपके जुनून और समर्पण को दर्शाता हो।
सकारात्मक बने रहें साक्षात्कार को सकारात्मक मानसिकता के साथ लें। भले ही चुनौतीपूर्ण प्रश्नों का सामना करना पड़े, संयम बनाए रखें।

आईएएस साक्षात्कार प्रश्न के साथ योग्यता परीक्षण

  • जैसा कि आप जानते हैं, यूपीएससी सिविल सेवा साक्षात्कार का दौर उम्मीदवारों की क्षमताओं और कौशल का अंतिम परीक्षण है जो एक अखिल भारतीय सिविल सेवक के रूप में उनके भविष्य का फैसला करेगा।
  • इस प्रकार, सभी उम्मीदवारों को उनमें कुछ गुणों को समृद्ध करना सुनिश्चित करना चाहिए जिनका यूपीएससी साक्षात्कार प्रश्नों के साथ पैनल द्वारा परीक्षण किया जाएगा। इस दौर में जाँचे गए कुछ व्यक्तित्व लक्षण इस प्रकार हैं –

विविधता और रुचियों की गहराई

यूपीएससी साक्षात्कार प्रश्न उत्तर के साथ (upsc interview questions with answers in hindi) बोर्ड द्वारा परीक्षण की गई पहली गुणवत्ता विषयों और रुचियों की गहराई और विविधता के साथ उम्मीदवार का आकर्षण है।

  • यूपीएससी पाठ्यपुस्तकों या किताबी शिक्षा के बाहर ज्ञान रखने वाले उम्मीदवारों की खोज करता है।
  • बहुआयामी ज्ञान और रुचियों की एक विस्तृत श्रृंखला वाले आकांक्षी अभ्यर्थियों के चयन की प्रबल संभावना होती है।
  • उनकी पाठ्येतर गतिविधियों और शौक पर यूपीएससी आईएएस साक्षात्कार प्रश्न 2023 (upsc ias interview questions 2023 in hindi) पूछे जाते हैं।
  • कई गैर-शैक्षणिक विषय क्षेत्रों पर भी प्रश्न पूछे जाते हैं जैसे ‘आपका शहर किस लिए प्रसिद्ध है?’ या ‘आपने अपने xyz शौक से क्या सीखा है?’।
  • इन यूपीएससी आईएएस साक्षात्कार प्रश्नों 2023 (upsc ias interview questions 2023 in hindi) को पूछने में, उम्मीदवारों के ज्ञान और रुचियों की गहराई को UPSC साक्षात्कार पैनल द्वारा बेहतर ढंग से समझा जाता है।

मानसिक सतर्कता और तीक्ष्णता

उम्मीदवारों की मानसिक तीक्ष्णता का परीक्षण करने के लिए पैनल कई मानसिक रूप से तेज और यहां तक कि यूपीएससी आईएएस साक्षात्कार ट्रिकी प्रश्न (ias interview questions tricky in hindi) भी पूछता है।

  • दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में एक उच्च दबाव वाले सार्वजनिक सिविल सेवक जॉब प्रोफाइल में काम करने के लिए मानसिक तीक्ष्णता अत्यंत आवश्यक है।
  • उम्मीदवारों की उपस्थिति का परीक्षण करने के लिए कठिन या तीखे प्रश्न भी पूछे जा सकते हैं। उदाहरण के लिए, “एक विमान दुर्घटना के बाद, आप जीवित बचे लोगों को कहाँ दफनाएँगे?” जवाब है “बचे लोगों को दफनाया नहीं जाता है।”
  • पैनल द्वारा उम्मीदवारों के ऑन-पॉइंट दृष्टिकोण और मुख्य मुद्दे से संबंधित उत्तरों का परीक्षण किया जाता है।

तर्कसंगत रक्षा और तार्किक व्याख्या

यहां तक कि कुछ यूपीएससी आईएएस साक्षात्कार के लिए स्थितिजन्य प्रश्न (situational questions for upsc interview in hindi) चर्चा के लिए कुछ मुद्दों पर उम्मीदवारों के उद्देश्य और तर्कसंगत रुख का परीक्षण करने के लिए भी पूछे जाते हैं।

  • ठोस औचित्य के साथ-साथ, एक लोक सिविल सेवक को तार्किक समस्या समाधान कौशल की भी आवश्यकता होती है।
  • किसी तीसरे व्यक्ति के दृष्टिकोण को कॉपी करने और दोहराने से पैनल पर एक बुरा प्रभाव पड़ेगा।
  • उदाहरण के लिए, यदि आपसे पूछा जाए कि “आप UPSC सिविल सेवा में क्यों शामिल होना चाहते हैं?” और यदि आप उत्तर देते हैं कि “मैं गरीबी को मिटाना चाहता हूं” या “मैं भ्रष्टाचार को दूर करना चाहता हूं और भारत को सर्वश्रेष्ठ बनाना चाहता हूं”, तो यह 1% भी तर्कसंगत नहीं होगा।
  • इसलिए, उचित मूल्यांकन और तार्किक तर्क के साथ प्रत्येक प्रश्न का उत्तर दें या तार्किक रूप से “मुझे नहीं पता लेकिन इस पर वापस आऊंगा” के साथ उत्तर न देने का सहारा लें।

निष्पक्षता और निर्णय का संतुलन

नौकरी के लिए आवश्यक निर्णय लेने में उम्मीदवारों की निष्पक्षता का परीक्षण करने के लिए अधिकांश यूपीएससी आईएएस साक्षात्कार प्रश्न 2023 (upsc ias interview questions in hindi) भी पूछे जाते हैं।

  • किसी विशेष मुद्दे को रेखांकित करते समय निश्चित स्थिति लेने से बचें।
  • भ्रमित करने वाले प्रश्नों के मामले में आपको एक आदर्श सामान्य आधार खोजना होगा। उदाहरण के लिए, आप किसका समर्थन करेंगे: पारंपरिक पितृसत्ता या कट्टरपंथी नारीवाद?
  • सार्वजनिक सेवा के पदों में निर्णायक संतुलन अत्यंत महत्वपूर्ण होता है जिसका पैनल द्वारा सही परीक्षण किया जाता है।

महत्वपूर्ण आत्मसात और एकीकरण कौशल

ऐसे उत्तर के साथ आईएएस साक्षात्कार प्रश्न पीडीएफ हिंदी में (UPSC interview questions with answers in Hindi PDF) उम्मीदवारों के महत्वपूर्ण एकीकरण कौशल का परीक्षण करने के लिए भी पूछे जाते हैं ताकि वे कई दृष्टिकोणों को स्वीकार करने और निर्णय लेने में सक्षम हो सकें।

  • उम्मीदवारों से हाल की घटनाओं से संबंधित प्रश्न पूछे जा सकते हैं। इस प्रकार, सभी पदों को समान रूप से स्पष्ट करना आवश्यक है।
  • ऐसा ही एक प्रश्न हो सकता है, “इंजीनियर होने के नाते, आपने वैकल्पिक कला को क्यों चुना?” इसका उत्तर देने के लिए, आप कह सकते हैं, “मेरी महत्वाकांक्षा विविध क्षेत्रों तक पहुँचने और कई केस स्टडी को संभव बनाने की है, इसलिए मैं खुद को केवल इंजीनियरिंग तक ही सीमित नहीं रखना चाहता था।”
  • इससे पैनल को उम्मीदवारों के बहुआयामी दृष्टिकोण को समझने में मदद मिलती है।

सामाजिक सामंजस्य और नेतृत्व

ईमानदारी, संचार, प्रतिनिधिमंडल, आत्मविश्वास और प्रतिबद्धता पांच मुख्य तत्व हैं जो उम्मीदवार में नेतृत्व कौशल को शामिल करते हैं।

  • उम्मीदवारों से कुछ यूपीएससी आईएएस साक्षात्कार प्रश्न हिंदी में (upsc ias interview questions in hindi) पूछे जाएंगे जो विरोधी पक्षों के बीच विवादों में मध्यस्थता करने की उनकी क्षमता को प्रदर्शित करते हैं।
  • एक सार्वजनिक सिविल सेवक के रूप में, यह उसका कर्तव्य है कि वह एक तटस्थ पर्यवेक्षक के रूप में सेवा करे और भारत के सामाजिक-राजनीतिक परिदृश्य में वस्तुनिष्ठ गुणों का प्रदर्शन करे।
  • ऐसा ही एक प्रश्न हो सकता है, “आप किसी नौकरशाह को किसी ऐसी समस्या के बारे में कैसे समझाएंगे जिसमें उसकी कोई रुचि नहीं है?

विद्वतापूर्ण और नैतिक अखंडता

कुछ यूयूपीएससी आईएएस साक्षात्कार प्रश्न हिंदी में (upsc ias interview questions in hindi) के माध्यम से उम्मीदवारों के बौद्धिक और नैतिक विचारों का भी परीक्षण किया जाता है।

  • नैतिकता और सत्यनिष्ठा के साथ-साथ नैतिक रूप से ईमानदार व्यक्तित्व से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • एक जनसेवक के रूप में एक आदर्श धरातल पर पकड़कर आम लोगों के समर्थन को बनाए रखना आवश्यक है।
  • ऐसा ही एक प्रश्न हो सकता है, “यदि आप किसी विशेष जिले के कलेक्टर/मजिस्ट्रेट होते और हमारे क्षेत्र में दंगा होता तो आप क्या करते या अपने प्रभुत्व वाले क्षेत्र में स्वास्थ्य, स्वच्छता या शिक्षा में सुधार के लिए आप क्या कदम उठाते?”
  • नैतिक रूप से चुनौतीपूर्ण परिदृश्यों पर भी प्रश्न पूछे जाते हैं जिनका लोक सेवकों को अक्सर अपने कार्यक्षेत्र में सामना करना पड़ता है।

बचे हुए समय में अपनी कमजोरियों पर भी काम कर सकते हैं। अगर आपको किसी से आई कॉनटैक्ट करते हुए बात करने में घबराहट होती है तो अपने दोस्तों से किसी भी टॉपिक पर आई कॉनटैक्ट करते हुए बात करने की प्रैक्टिस करें। पूरे कॉन्फिडेंस के साथ इंटरव्‍यू दें, आईएएस साक्षात्कार के लिए इन युक्तियों का पालन करें, और आप साक्षात्कार पैनल को प्रभावित करने की राह पर होंगे। आपकी आईएएस यात्रा के लिए शुभकामनाएँ!

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This