मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को नेशनल कोऑर्डिनेटर पद से हटाया, ‘मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट मोदी कोड ऑफ कंडक्ट में बदला’ ममता बनर्जी

5 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 07 मई 2024 | जयपुर – दिल्ली : बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने मंगलवार (7 मई) को अपने भतीजे आकाश आनंद को पार्टी के नेशनल कोओर्डिनेटर और अपने उत्तराधिकारी के पद से हटा दिया। मायावती ने इसकी जानकारी सोशल मीडिया X पर दी। कहा, ‘मूवमेंट के व्यापक हित से पूर्ण परिपक्वता ना होने की वजह से उन्हें दोनों पदों के अहम जिम्मेदारी पद पर से हटाया जाता है।

मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को नेशनल कोऑर्डिनेटर पद से हटाया

10 दिसंबर 2023 को बसपा ने यूपी-उत्तराखंड के नेताओं की बैठक बुलाई थी। बैठक में मायावती ने अपने सबसे छोटे भाई आनंद कुमार के बेटे आकाश आनंद को उत्तराधिकारी घोषित किया था। पार्टी की विरासत और राजनीति को आगे बढ़ाने के लिए अपने भतीजे पर विश्वास जताया। डेढ़ घंटे मीटिंग चली थी।

mamata gif 1715080737 मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को नेशनल कोऑर्डिनेटर पद से हटाया, मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट मोदी कोड ऑफ कंडक्ट में बदला ममता बनर्जी आकाश ने 2017 में राजनीति में की थी एंट्री

उत्तराधिकारी घोषित होने से 6 साल पहले यानी 2017 में आकाश आनंद सहारनपुर की जनसभा में मायावती के साथ दिखे थे। इसके बाद वह लगातार पार्टी में रहकर कार्य कर रहे थे। 2019 में उन्हें नेशनल कोऑर्डिनेटर बनाया गया था। यह फैसला तब लिया गया जब सपा और बसपा का गठबंधन लोकसभा चुनाव के बाद टूटा। 2022 के हिमाचल विधानसभा चुनाव में पहली बार आकाश आनंद का नाम स्टार प्रचारकों की लिस्ट में आया था।

मायावती ने X पर तीन पोस्ट किए। मायावती ने लगातार एक के बाद एक X पर तीन पोस्ट किए। पहला- देश में सात चरणों में हो रहे लोकसभा आमचुनाव के तीसरे चरण की वोटिंग में पहले की तरह आज भी ’पहले मतदान फिर जलपान’ के संकल्प को नहीं भूलना है और अपने वोट की हर प्रकार से रक्षा करते हुए मतदान ज़रूर करके अपना भविष्य खुद संवारने का यह लोकतांत्रिक अवसर कतई नहीं गंवाना है।

दूसरा- चुनाव आयोग से भी विशेष आग्रह है कि विरोधी पार्टियों में भी खासकर रूलिंग पार्टी द्वारा आदर्श चुनाव आचार संहिता का लगातार किए जा रहे उल्लंघन पर सख्ती से अंकुश लगाए ताकि चुनाव सही, स्वतंत्र व निष्पक्ष होे।

तीसरा- जबकि इनके पिता श्री आनन्द कुमार पार्टी व मूवमेंट में अपनी जिम्मेदारी पहले की तरह ही निभाते रहेेंगेे। अतः बीएसपी का नेतृत्व पार्टी व मूवमेंट के हित में एवं बाबा साहेब डा. अम्बेडकर के कारवां को आगे बढ़ाने में हर प्रकार का त्याग व कुर्बानी देने से पीछे नहीं हटने वाला है।

चुनाव आयोग ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘X’ से मुसलमानों पर की गई आपत्तिजनक पोस्ट हटाने को कहा। चुनाव आयोग ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘X’ से कथित तौर पर ‘ BJP4कर्नाटक’ हैंडल से मुसलमानों पर की गई एक आपत्तिजनक पोस्ट को तुरंत हटाने को कहा है।

76 1715086509 मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को नेशनल कोऑर्डिनेटर पद से हटाया, मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट मोदी कोड ऑफ कंडक्ट में बदला ममता बनर्जी

वीडियो में दिखाया गया है कि एक घोंसले में SC,ST, OBC समुदाय नाम के अंडे हैं। राहुल गांधी मुस्लिम समुदाय नाम का एक बड़ा अंडा इस घोंसलें में रख रहे हैं। वीडियो में ऐसा दिखाने की कोशिश की गई है कि सारे फंड्स मुस्लिम समुदाय वाले अंडे से निकले चूजे को खिलाए जा रहे हैं, और यह चूजा बाद में SC, ST और OBC समुदाय को घोंसले से बाहर कर रहा है।

‘मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट मोदी कोड ऑफ कंडक्ट में बदला’ ममता बनर्जी

ममता बोलीं- भाजपा के शासन में मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट, मोदी कोड ऑफ कंडक्ट में बदल गया। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग पर आरोप लगाए हैं। पुरुलिया की सभा में उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग भाजपा नेताओं के खिलाफ आंखें बंद किए हुए है। वे (भाजपा नेता) प्रचार के दौरान नफरती भाषण दे रहे हैं। मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट (आदर्श चुनाव संहिता), मोदी कोड ऑफ कंडक्ट (मोदी आचार संहिता) में बदल गई है।

ममता ने ये भी कहा कि पीएम मोदी और भाजपा के शीर्ष नेता केवल खुद को हिंदू मानते हैं, वे किसी और समुदाय के बारे में नहीं सोचते। प्रधानमंत्री और भाजपा नेता अपने भाषणों में निचली जाति के हिंदुओं, अल्पसंख्यकों और हाशिए पर रह रहे समुदायों पर निशाना साधते हैं, लेकिन चुनाव आयोग खामोश है।

प्रियंका बोलीं- आज देश में ब्रिटिश साम्राज्य जैसे हालात

रायबरेली में मंगलवार को प्रियंका गांधी ने कहा-5 किलो राशन देकर लोगों को बड़े सपने दिखाए जा रहे हैं। हम आपको यह दिखाएंगे की अर्थव्यवस्था कितनी मजबूत हो रही है। आपके जीवन में यह सच्चाई नहीं दिख रही है। लोकतंत्र को मजबूत करने वाले संस्थानों को कमजोर किया गया है। चाहे वह मीडिया हो या न्यायपालिका। इनकी कोशिश रही है कि संसद भी मजबूत न रह पाए।

यह भी पढ़ें : ईडब्ल्यूएस आरक्षण पर मध्य प्रदेश हाई कोर्ट का बड़ा फैसला

प्रियंका ने कहा-एक तरफ लोकतंत्र है। सत्य है। सच्चाई है। दूसरी तरफ किसी न किसी तरह का आतंक है। आज जो स्थिति है वह ब्रिटिश साम्राज्य में हुआ करती थी। आज देश के गरीब व किसान को नकारा जा रहा है। पिछले 10 साल में नरेंद्र मोदी सरकार में उनको ध्यान में रखकर नीतियां नहीं बनाई गई। बल्कि बड़े-बड़े खरबपतियों के लिए बनाई गई। देश का किसान पिस रहा है। मेहनत कर रहा है। लेकिन मेहनत की कमाई उसकी पूरी नहीं हो रही है।

आकाश आनंद के पिता पर मायावती को भरोसा

इसी क्रम में पार्टी में अन्य लोगों को आगे बढ़ाने के साथ ही आकाश आनन्द को नेशनल कोओर्डिनेटर और अपना उत्तराधिकारी घोषित किया, किन्तु पार्टी और मूवमेन्ट के व्यापक हित में पूर्ण परिपक्वता आने तक अभी उन्हें इन दोनों अहम जिम्मेदारियों से अलग किया जा रहा है, जबकि इनके पिता आनन्द कुमार पार्टी और मूवमेन्ट में अपनी जिम्मेदारी पहले की तरह ही निभाते रहेंगे। अतः बीएसपी का नेतृत्व पार्टी और मूवमेन्ट के हित में एवं बाबा साहेब डॉ. अम्बेडकर के कारवां को आगे बढ़ाने में हर प्रकार का त्याग और कुर्बानी देने से पीछे नहीं हटने वाला है।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This