प्रज्वल रेवन्ना ने पुलिस अफसर और डॉक्टर्स की पत्नियों JDS वर्कर या मेड किसी को नहीं बख्शा, पीड़ित या तो गायब या घरों में कैद ज्यादातर शादीशुदा महिलाएँ

11 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 08 मई 2024 | जयपुर – दिल्ली – जोधपुर (कर्नाटक सेक्स स्कैंडल ) : 24 अप्रैल, 2024 की सुबह कर्नाटक के हासन में लोग रोज की तरह जिला स्टेडियम में रनिंग और एक्सरसाइज करने पहुंचे। ये रोजाना जैसी सुबह नहीं थी। रनिंग ट्रैक पर सैकड़ों पेन ड्राइव बिखरे थे। लोगों ने पेन ड्राइव का कंटेंट देखा तो हासन से सांसद और JDS लीडर प्रज्वल रेवन्ना की करीब 3 हजार सेक्स क्लिप और फोटो नजर आईं। हंगामा मच गया, लोकल न्यूज चैनल में सिर्फ एक ने ये खबर चलाई।

प्रज्वल रेवन्ना ने पुलिस अफसर और डॉक्टर्स की पत्नियों JDS वर्कर या मेड किसी को नहीं बख्शा

untitled design 93 1715134709 प्रज्वल रेवन्ना ने पुलिस अफसर और डॉक्टर्स की पत्नियों JDS वर्कर या मेड किसी को नहीं बख्शा, पीड़ित या तो गायब या घरों में कैद ज्यादातर शादीशुदा महिलाएँ

हासन के इसी स्टेडियम में प्रज्वल से जुड़ी पेन ड्राइव मिली थीं। लोग यहां मॉर्निंग वॉक के लिए आते हैं। माना जा रहा है कि पेन ड्राइव इसीलिए यहां फेंकी गईं, ताकि उन्हें लोगों तक पहुंचाया जा सके। ये क्लिप कई महीनों से कुछ चुनिंदा लोगों के पास मौजूद थीं।

इन वीडियो के बारे में सार्वजनिक तौर पर खुद प्रज्वल ने जून, 2023 में बेंगलुरु सिविल कोर्ट को बताया था। प्रज्वल 86 मीडिया संस्थानों और तीन लोगों के खिलाफ कोर्ट पहुंचे थे और इन वीडियो को पब्लिश करने या छापने पर रोक लगाने की मांग की थी।

प्रज्वल का आरोप था कि ये एडिटेड हैं। तब नाम आया प्रज्वल के ही पूर्व ड्राइवर कार्तिक का। कार्तिक ने मार्च, 2023 में नौकरी छोड़ी और ये वीडियो बांट दिए। दैनिक भास्कर हासन पहुंचा और पीड़ितों से बात करने की कोशिश की।

पढ़िए इन्वेस्टिगेटिव ग्राउंड रिपोर्ट… छानबीन में जो सामने आया

प्रज्वल के कथित वीडियो की छानबीन से पता चलता है कि वो अपनी पावर, पोजिशन, यानी सांसद और मजबूत राजनीतिक परिवार से होने का गलत इस्तेमाल कर रहा था। उसके टारगेट पर कथित तौर पर 4 तरह की महिलाएं और लड़कियां थीं…

1. ऐसे अफसर जिनके खिलाफ करप्शन केस चल रहे थे। कथित तौर पर उनकी पत्नियों को निशाना बनाया गया। वीडियो में कई ऐसी महिलाओं के होने की बात सामने आई है। इनमें कई पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं।

2. ऐसी महिलाएं या लड़कियां, जो प्रज्वल से सांसद होने के नाते मदद मांगने आती थीं, उन्हें भी शिकार बनाया जा रहा था। हासन की एक महिला कारोबारी का नाम सामने आ रहा है।

3. ज्यादातर वीडियोज और फोटोज में जो महिलाएं पहचान में आई हैं, वे JDS की कार्यकर्ता हैं। एक जिला पंचायत सदस्य ने प्रज्वल के खिलाफ FIR भी दर्ज कराई है। ऐसी ही एक JDS कार्यकर्ता के घर दैनिक भास्कर भी पहुंचा, लेकिन वो पहले ही गायब थीं। घरवाले कह रहे हैं कि वो नेपाल गई हैं। इस महिला ने भी पुलिस में शिकायत नहीं की है।

4. प्रज्वल ने अपने घर में काम करने वाली महिलाओं, फैमिली फ्रेंड और कई इंफ्लुएंशियल फैमिली की महिलाओं और लड़कियों को भी निशाना बनाया है। प्रज्वल के घर की एक मेड पहले ही FIR करवा चुकी हैं। एक और लड़की के फोटो-वीडियो सामने आए हैं, जो हासन के नामी डॉक्टर की नातिन है। इस डॉक्टर ने एचडी देवगौड़ा के साथ JDS की स्थापना करने में मदद की थी।

वीडियो-फोटो करीब 3 हजार बताए जा रहे हैं। इनमें से कितने असली हैं और कितने नकली हैं, इनकी जांच होनी बाकी है। हालांकि, कई वीडियो में प्रज्वल साफ नजर आ रहा है और वह खुद ही वीडियो शूट करता भी दिख रहा है। ज्यादातर फोटोज-वीडियो कॉल के स्क्रीन शॉट हैं। विक्टिम हासन, मैसुरु, होलेनरासीपुर और आस-पास के इलाकों की हैं। सिर्फ दो को छोड़कर अब तक कोई और सामने नहीं आई हैं।

हासन में चुप्पी और बेंगलुरु में शोर

हासन कर्नाटक का एक सामान्य शहर है। इससे एक मजबूत राजनीतिक परिवार की लीगेसी जुड़ी है। देवगौड़ा परिवार यहीं से आगे बढ़ा और होलेनरासीपुर में आज भी उनका पुश्तैनी घर है। हालांकि, ये वो घर भी है, जहां कथित तौर पर कुछ सेक्स वीडियो शूट किए गए हैं। इस घर में प्रज्वल के पिता होलेनरासीपुर के विधायक एचडी रेवन्ना रहते हैं।

प्रज्वल हासन सिटी में सांसद निवास में रहता था। जानकारी के मुताबिक, कई वीडियोज में ये दोनों घर नजर आ रहे हैं। सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि प्रज्वल के घर की दीवार और हासन SP के ऑफिस की दीवार एक है, यानी ये सब हासन SP के ऑफिस के बगल वाले घर में ही हो रहा था।

untitled design 94 1715134514 प्रज्वल रेवन्ना ने पुलिस अफसर और डॉक्टर्स की पत्नियों JDS वर्कर या मेड किसी को नहीं बख्शा, पीड़ित या तो गायब या घरों में कैद ज्यादातर शादीशुदा महिलाएँ

हासन में प्रज्वल के पिता एचडी रेवन्ना का बंगला है। कुछ वीडियो इस बंगले में भी बनाए गए हैं। फिलहाल यहां देवगौड़ा परिवार का कोई मेंबर नहीं रह रहा है। हासन में सन्नाटा है, कांग्रेस के लोकल लीडर छोड़ दें तो BJP-JDS और आम लोग भी इस बारे में बात करने से बचते नजर आ रहे हैं। उसकी वजह भी है, पहली ये कि ये देवगौड़ा परिवार का गढ़ है। गढ़ भी ऐसा-वैसा नहीं, बल्कि यहां उनकी हुकूमत है।

हासन के सोशल वर्कर मुबाशिर कहते हैं, ‘प्रज्वल रेवन्ना बहुत घमंडी आदमी है। वो एक्स PM का पोता और पूर्व मंत्री का बेटा है। उसके चाचा पूर्व CM हैं, लेकिन उसका कोई किरदार नहीं है। हासन में सब उससे डरते हैं। वो गन लेकर चलता है और किसी को भी धमका देता है।’

फिलहाल प्रज्वल रेवन्ना के खिलाफ ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी हो चुका है। कर्नाटक के गृह मंत्री डॉ. जी परमेश्वर के मुताबिक, ‘अब इंटरपोल देखेगा कि उन्हें कैसे भारत वापस लाया जा सकता है। आरोपों के बाद प्रज्वल को 30 अप्रैल को JDS से सस्पेंड कर दिया गया था।’

पीड़ितों में कोई नेपाल चली गई, कोई घर में कैद, बाकी गायब

26 अप्रैल को हासन में वोटिंग के तुरंत बाद प्रज्वल देश छोड़कर भाग गया था। उसके पिता एचडी रेवन्ना को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया है। उन पर एक विक्टिम के अपहरण का आरोप है। आरोप है कि उन्होंने महिला को SIT के पास जाने से रोकने की कोशिश की।

प्रज्वल के खिलाफ पहली FIR 28 अप्रैल को एक महिला की शिकायत पर दर्ज की गई थी। ये महिला प्रज्वल के घर में मेड का काम करती थी। वीडियो वायरल होने के बाद महिला ने शिकायत की और अब कथित तौर पर वो बेंगलुरु में SIT की सुरक्षा में है। फिलहाल पीड़िता के घर पर ताला लगा है।

एक अन्य शिकायत JDS कार्यकर्ता और जिला पंचायत सदस्य ने की है। वे भी अब सामने नहीं आ रही हैं। SIT की टीम शनिवार को उनके घर पहुंची थी। कथित तौर पर वे घर पर ही हैं, लेकिन किसी से भी बात नहीं कर रही हैं। जब हम उनके घर पर पहुंचे तो बताया गया वे अंदर ही हैं, लेकिन उनके परिवार के लोगों ने कहा कि वे यहां नहीं हैं।

पेन ड्राइव में मिले कंटेंट में वीडियो कॉल्स की कई रिकॉर्डिंग भी मिली हैं। दावा है कि ये कॉल्स प्रज्वल ने रिकॉर्ड की हैं।

एक अन्य लड़की जिसके फोटो-वीडियो वायरल हैं, वो हासन के वल्लभ भाई रोड पर रहती हैं। इस लड़की ने शिकायत दर्ज नहीं कराई है, वो पेशे से CA है। हम उसके घर पहुंचे तो हमारी मुलाकात लड़की की मां से हुई। उन्होंने बताया कि वो पशुपतिनाथ के दर्शन करने नेपाल गई है।

हालांकि आस-पड़ोस के लोगों ने बताया कि वीडियो सामने आने के बाद से ही लड़की घर से गायब है। उसे गए हुए करीब 7 दिन हो चुके हैं। शनिवार को SIT की टीम भी उसके घर पहुंची थी। ज्यादातर पीड़ित फिलहाल सामने आने से घबरा रही हैं। इसके पीछे बदनामी और प्रज्वल रेवन्ना की फैमिली का रसूख दोनों ही वजह है।

पीड़ित या तो गायब या घरों में कैद ज्यादातर शादीशुदा महिलाएँ

हासन में हमारी मुलाकात जिला महिला कांग्रेस की अध्यक्ष ताराचंदन से हुई। वे उन चंद लोगों में शामिल हैं, जो हासन में होते हुए भी प्रज्वल के खिलाफ आवाज उठा रही हैं। वे कहती हैं, ‘जिन महिलाओं के वीडियो वायरल हो रहे हैं, उनमें कुछ मेरी जानने वाली हैं। वे सभी अच्छे खानदान से हैं। फाइनेंशियली मजबूत हैं और ज्यादातर शादीशुदा हैं। उनके गले में मंगल सूत्र देखकर पता चलता है कि ज्यादातर महिलाएं हिंदू हैं। प्रज्वल वीडियो शूट करते वक्त मंगल सूत्र नहीं उतरवाता था। वीडियोज में दिख रहा है कि ज्यादातर पीड़ितों के शरीर पर कपड़े नहीं हैं, लेकिन उनका मंगल सूत्र नहीं उतरवाया गया।’

‘हम इसी बात से हैरान हैं कि इनके साथ ऐसा कैसे हो गया। कुछ लोगों को ये भी शंका हो रही है कि इन्हें कुछ खिलाया गया होगा। कोई लालच दिया गया होगा या डराया होगा। अब क्या हुआ है, ये तो SIT की जांच के बाद ही पता चलेगा।’

whatsapp image 2024 05 07 at 191735 1715132776 प्रज्वल रेवन्ना ने पुलिस अफसर और डॉक्टर्स की पत्नियों JDS वर्कर या मेड किसी को नहीं बख्शा, पीड़ित या तो गायब या घरों में कैद ज्यादातर शादीशुदा महिलाएँहासन में ये सब होता रहा और किसी को पता नहीं चला

तारा आगे बताती हैं, ‘हमें इस घटना की जानकारी 4 अप्रैल को मिली थी। लोग बता रहे थे कि इस तरह के वीडियो सामने आ रहे हैं, लेकिन यकीन नहीं हो रहा था। एक-दो दिन बाद हमारे फोन में ही फोटो-वीडियो आने लगे। देखकर हैरान रह गए, क्योंकि हासन में ऐसा कभी नहीं हुआ। जिन महिलाओं के वीडियो सामने आए, वे प्रतिष्ठित परिवारों से आती हैं। ऐसे में कुछ समझ में नहीं आ रहा कि ऐसा हुआ तो हुआ कैसे।’

तारा कहती हैं, ‘वीडियो में दिख रही कुछ महिलाओं से इस घटना के पहले ही मेरी मुलाकात हुई थी, लेकिन उन्होंने कोई जिक्र नहीं किया। उनका चेहरा भी देखकर ऐसा नहीं लगा कि उनका वीडियो बना है। ज्यादातर महिलाएं JDS से ही जुड़ी हैं। घटना के बाद से किसी महिला से बात नहीं हुई। कुछ का फोन स्विच ऑफ है। वे घर पर भी नहीं हैं। कहां गई हैं, ये किसी को पता नहीं।’

सोशल वर्कर मुबाशिर भी कहते हैं, ‘एडवोकेट देवराज और कार्तिक 6 महीने पहले इस मामले को सामने लाए थे, लेकिन तब किसी को नहीं पता था कि इतना बड़ा विस्फोट होने वाला है। हमें पता चला है कि जो महिलाएं उससे मदद मांगने गईं, उनका भी मिसयूज किया गया। यहां की महिलाएं डरी हुई हैं। हासन में लोग एक्स PM देवगौड़ा जी की इज्जत करते हैं। उनके रहते हुए ऐसा नहीं होना था।’

हासन में कांग्रेस की कैंपेनिंग कमेटी के हेड और एडवोकेट देवराज गौड़ा बताते हैं, ‘400 से ज्यादा महिलाओं का मिसयूज किया गया है। वीडियो देखकर पता चल रहा है कि सिर्फ हासन की महिलाओं का यौन उत्पीड़न नहीं किया गया, बल्कि इसमें मैसुरु और कई दूसरी जगहों की महिलाएं भी शामिल थीं।’ ‘उसने कुछ वीडियो अपने घर पर बनाए और कुछ सरकारी बंगले पर बनाए। हासन के लोगों में प्रज्वल को लेकर बहुत गुस्सा है, इसलिए इस बार हासन से कांग्रेस जीतने वाली है।’

प्रज्वल ने ड्राइवर कार्तिक की पत्नी पर नजर डाली और सब सामने आया

जानकारी के मुताबिक, दिसंबर 2023 में ड्राइवर कार्तिक ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि उसकी पत्नी को प्रज्वल ने किडनैप कर लिया है। उसने आरोप लगाया था कि प्रज्वल की ओर से 13 एकड़ जमीन की मांग की गई थी।

इसके बाद BJP नेता जी. देवराज गौड़ा ने 8 दिसंबर, 2023 को प्रदेश अध्यक्ष बीवाई विजयेंद्र को लेटर लिखा था। इसमें देवराज गौड़ा ने प्रज्वल रेवन्ना और उनके परिवार के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाए थे। देवराज गौड़ा ने लिखा कि एचडी देवगौड़ा के परिवार के कई नेताओं के खिलाफ गंभीर आरोप हैं, जिनमें JDS के NDA उम्मीदवार प्रज्वल रेवन्ना भी शामिल हैं।

उनका दावा था कि 2,976 वीडियो वाली एक पेन ड्राइव है, जिसकी फुटेज में दिख रहीं कुछ महिलाएं सरकारी अधिकारी थीं। इन वीडियो का इस्तेमाल महिलाओं को सेक्शुअल एक्टिविटीज में शामिल रहने के लिए ब्लैकमेल करने के लिए हो रहा था।

अगर हासन लोकसभा सीट से JDS उम्मीदवार को नॉमिनेट करते हैं, तो विपक्ष की ओर से इन वीडियो को हथियार के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही हम एक ऐसी पार्टी के तौर पर कलंकित होंगे, जो दुष्कर्म करने वाले परिवार के साथ जुड़ी है। हमने जी. देवराज गौड़ा से बात करने की कोशिश की, लेकिन वे भी फिलहाल इस केस के बारे में बात करने से बच रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री बोले- आरोपों की जांच हो और कड़ी सजा मिले

कर्नाटक की धारवाड़ हुबली सीट से BJP कैंडिडेट और केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने प्रज्वल सेक्स स्कैंडल मामले में कहा, ‘अगर उन्होंने गलती की है तो इसकी कड़ी सजा मिलनी चाहिए। SIT इसकी जांच कर रही है और उसकी रिपोर्ट सामने आने दीजिए। हम लोग पब्लिक लाइफ में है, हमें दूसरों के लिए उदाहरण बनना चाहिए, लेकिन जो आरोप उन पर लगे हैं, वे चिंतित करने वाले हैं।’

यह भी पढ़ें : ईडब्ल्यूएस आरक्षण पर मध्य प्रदेश हाई कोर्ट का बड़ा फैसला

उधर, PM नरेंद्र मोदी ने भी इस केस में चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने एक टीवी इंटरव्यू में कहा कि ऐसे लोगों को कठोर सजा देनी चाहिए। मोदी ने आरोप लगाया है कि कर्नाटक की कांग्रेस सरकार ने जानबूझकर JDS सांसद को देश से बाहर जाने में मदद की। अगर उनके पास जानकारी थी तो उन्होंने एयरपोर्ट पर नजर क्यों नहीं रखी। राज्य सरकार को केंद्र सरकार को सूचना देनी चाहिए थी। इसका मतलब है कि ये कांग्रेस का राजनीतिक खेल है।

यह भी पढ़ें : जोधपुर में महंत की अश्लील चैट और वीडियो से आक्रोश

उधर, कर्नाटक के पूर्व CM एचडी कुमारस्वामी ने कहा, ‘चाहे मैं हूं या एचडी देवगौड़ा, हम हमेशा महिलाओं का सम्मान करते हैं। जांच से सारे तथ्य सामने आने दीजिए। गलती चाहे किसी की भी हो, उसे माफ करने का सवाल ही नहीं उठता।’ हालांकि प्रज्वल रेवन्ना के पिता एचडी रेवन्ना ने इसे साजिश बताया है। उन्होंने कहा, ‘मैं नहीं जानता ये कैसी साजिश है। मैं उन लोगों में से नहीं हूं, जो डर कर भाग जाऊं। उन्होंने जो वीडियो रिलीज किए हैं, वो 4-5 साल पुराने हैं।’

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

1 thought on “प्रज्वल रेवन्ना ने पुलिस अफसर और डॉक्टर्स की पत्नियों JDS वर्कर या मेड किसी को नहीं बख्शा, पीड़ित या तो गायब या घरों में कैद ज्यादातर शादीशुदा महिलाएँ”

  1. जय भीम जय भारत जय संविधान बहुजन समाज की आवाज हमेशा ऐसे ही उठाते रहे।

    Reply

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This