कन्हैया लाल मीणा ने किरोड़ी को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की, दौसा भाजपा प्रत्याशी कन्हैया लाल मीणा के बयान सियासी पारे में उबाल

5 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो | 11 मई 2024 | दिल्ली – जयपुर – दौसा (मीणा हाई कोर्ट) : राजस्थान में लोकसभा चुनाव समाप्त होने के बाद भी सियासी सरगर्मी बढ़ी हुई है। इस बीच दौसा लोकसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी का कन्हैया लाल मीणा ने किरोड़ी लाल मीणा को मुख्यमंत्री बनाने मांग कर सियासत का पारा चढ़ा दिया।

कन्हैया लाल मीणा ने किरोड़ी को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की

MOOKNAYAKMEDIA 4 Copy 300x195 कन्हैया लाल मीणा ने किरोड़ी को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की, दौसा भाजपा प्रत्याशी कन्हैया लाल मीणा के बयान सियासी पारे में उबालकन्हैयालाल मीणा के बयान से बीजेपी की सियासत के हलकों में हलचल मच गई हैं। राजनीतिक जानकार कन्हैया लाल मीणा के इस बयान को कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा की इस्तीफा देने की पेशकश से जोड़कर देख रहे हैं। बीते दिनों किरोड़ी लाल मीणा ने कहा था कि अगर कन्हैया लाल दौसा से हार गए, तो मैं मंत्री पद से इस्तीफा दे दूंगा।

दौसा से बीजेपी के उम्मीदवार कन्हैयालाल मीणा ने खुलकर कहा है कि कृषि मंत्री डॉ किरोड़ीलाल मीणा को मुख्यमंत्री बनना चाहिए था।  हालांकि, उन्होंने यह भी साफ किया कि विधानसभा चुनाव उनके नेतृत्व में नहीं लड़ा गया, इसलिए पार्टी ने अलग फैसला किया। मीणा ने सचिन पायलट को कांग्रेस में तवज्जो नहीं मिलने की प्रतिक्रिया में बीजेपी को वोट मिलने का दावा किया है। हालांकि, उन्होंने यह भी माना कि मेहनत के हिसाब से वोट नहीं मिले।

सचिन पायलट के बयानों पर दौसा से बीजेपी उम्मीदवार कन्हैया लाल मीणा ने कहा कि किरोड़ीलाल को मुख्यमंत्री बनना चाहिए था, यह सही है, लेकिन पार्टी का फैसला है। वो (सचिन पायलट) तो प्रदेश अध्यक्ष थे, उनके नेतृत्व में चुनाव लड़ा गया था। राजस्थान का चुनाव पायलट के नेतृत्व में लड़ा गया था, बहुमत आया, फिर भी उन्हें सीएम नहीं बनाया।

उस समय निश्चित रूप से उनको सीएम बनाना चाहिए था, लेकिन नहीं बनाया। राजस्थान का चुनाव तो डॉ. किरोड़ी के नेतृत्व में नहीं लड़ा गया। किरोड़ी लाल मीणा ने 5 मई को नांदरी गांव में मीणा समाज की मीटिंग में कहा था- यदि दौसा लोकसभा से बीजेपी नहीं जीती तो मैं मंत्री पद छोड़ दूंगा।

मीणा ने कहा- डॉ. किरोड़ी के नेतृत्व में चुनाव लड़ते तो निश्चित रूप से उनका ध्यान रखते। अभी भी कोई जरूरी नहीं है डॉक्टर साहब को तो अच्छा पद देंगे अच्छा सम्मान देंगे। अभी भी उनके पास मंत्री पद है। ऐसा नहीं है कि पार्टी ने उन्हें सम्मान नहीं दिया, उन्हें पूरा सम्मान दिया है।

जीत के कम अंतराल का गम, इसलिए इस्तीफे की बात कही

comp 8 1715414110 कन्हैया लाल मीणा ने किरोड़ी को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की, दौसा भाजपा प्रत्याशी कन्हैया लाल मीणा के बयान सियासी पारे में उबालकन्हैयालाल मीणा पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। भाजपा ने वर्तमान सांसद जसकौर मीणा का टिकट काटकर उन्हें मैदान में उतारा है। डॉ. किरोड़ीलाल के मंत्री पद से इस्तीफा देने के बयान पर कन्हैयालाल ने कहा कि किरोड़ीलाल मीणा ने जिस तरह से मेहनत की है, उनके मन में है कि मैं जितने बड़े मतों के अंतराल से जीतना चाहिए था, उनको लग रहा है कि हो सकता है कम मतों से जीते, उन्हें जीत की कमी का गम है। उन्हें लग रहा है कि जब इतनी मेहनत कर रहा हूं, फिर भी कम अंतर से जीतेंगे यह उनका दर्द है।

पायलट को कांग्रेस में तवज्जो नहीं मिली, इससे बीजेपी को वोट मिले

सचिन पायलट को लेकर कन्हैयालाल मीणा ने कहा- सचिन पायलट हमेशा कांग्रेस के लिए काम करते रहते हैं, लेकिन सचिन पायलट को जो तवज्जो कांग्रेस में मिलनी चाहिए थी वह आज तक उनको नहीं दी गई है। आमजन भी जानता है, सारे समाज के लोग भी जानते हैं कि कांग्रेस में जो पायलट की स्थिति है उसको देखते हुए सब लोगों ने भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में मतदान किया है।

सचिन पायलट पर भी बोले कन्हैया लाल मीणा

दौसा लोकसभा सीट पर कन्हैया लाल मीणा के सामने सचिन पायलट के करीबी मुरारी लाल मीणा ने चुनाव लड़ा। इस दौरान कन्हैया लाल मीणा ने पायलट को लेकर भी कहा कि कांग्रेस में पायलट को जो तवज्जो मिलना चाहिए था, वह नहीं दिया गया। जबकि पायलट ने कांग्रेस के लिए हमेशा काम किया है। इस बात को कांग्रेस के लोग भी जानते हैं, इसी के चलते दौसा में लोगों ने पायलट की स्थिति को देखते हुए बीजेपी को मतदान किया है।

दौसा भाजपा प्रत्याशी कन्हैया लाल मीणा के बयान सियासी पारे में उबाल

whatsappvideo2024 05 06at124105pm ezgifcom resize  1715412705 कन्हैया लाल मीणा ने किरोड़ी को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की, दौसा भाजपा प्रत्याशी कन्हैया लाल मीणा के बयान सियासी पारे में उबालदौसा लोकसभा सीट पर कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा की प्रतिष्ठा दांव पर है। बीजेपी प्रत्याशी कन्हैया लाल मीणा को जीत दिलाने के लिए किरोड़ी लाल मीणा ने जमकर पसीना बहाया है। इस बीच भाजपा प्रत्याशी कन्हैया लाल मीणा के बयान सियासी पारे में उबाल ला दिया है। इसमें उन्होंने किरोड़ी लाल मीणा को मुख्यमंत्री तक बनाने की मांग कर डाली।

उन्होंने यह बयान एक समारोह में मीडिया के दौरान दिया। कन्हैया लाल मीणा के इस बयान के बाद भाजपा में नई बहस छिड़ गई है। वहीं राजनीतिक जानकार लोगों का मानना है कि कन्हैया लाल मीणा ने किरोड़ी लाल की ओर से किए गए उनके सपोर्ट को देखते हुए उनके प्रति सहानुभूति जताते हुए उन्हें मुख्यमंत्री बनाने का बड़ा बयान दिया है।

कन्हैया लाल ने कहा- डॉ. किरोड़ी का पद और कद तो बढ़ा हुआ ही रहता है। मोदीजी भी उनको व्यक्तिगत रूप से जानते हैं कि वो व्यक्ति कितनी मेहनत करता है। दौसा की जीत से डॉ. किरोड़ी का सिर ऊंचा होगा। मेरे बल पर नहीं हमने कार्यकर्ताओं के बल पर ही चुनाव लड़ा है। डॉ. किरोड़ी ने आम पब्लिक के बीच में जाकर मेहनत की, सब कार्यकर्ताओं को साथ लिया। कुछ लोग थोड़े-थोड़े नाराज हो जाते हैं उनको भी उन्होंने मनाया और चुनाव में तैयार किया।

कन्हैया लाल ने बताया- किरोड़ी के इस्तीफा देने की बात के मायने

कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा ने दौसा लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी कन्हैयालाल मीणा को जिताने के लिए चुनाव प्रचार में उन्होंने पूरा दमखम लगाया। इस दौरान उन्होंने मीणा समाज की पंचायत में लोगों को सौगंध तक दिलाई। यहीं नहीं उन्होंने लोगों से जब तक कन्हैया लाल को जिताने का आश्वासन नहीं मिला, तब तक उनके हाथों पानी भी नहीं पीया।

यह भी पढ़ें : केजरीवाल को जमानत तो आदिवासी नेता हेमंत सोरेन को क्यों नहीं

ऐसे में उन्होंने मीणा महापंचायत में यहां तक कह दिया कि अगर दौसा लोकसभा सीट से कन्हैया लाल मीणा नहीं जीता, तो वह मंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे। किरोड़ी लाल के इस बयान पर कन्हैया लाल मीणा ने कहा कि उन्होंने यह बात इसलिए कही है कि क्योंकि उनको लगता है कि इतनी मेहनत के बाद भी मेरी जीत का अंतर कम होगा।

मूकनायक नायक मीडिया को आर्थिक सहयोग दीजिए

DONATION MOOKNAYAK MEDIA 1 300x169 कन्हैया लाल मीणा ने किरोड़ी को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की, दौसा भाजपा प्रत्याशी कन्हैया लाल मीणा के बयान सियासी पारे में उबाल

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This