25 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन, केंद्र से ऑक्सीजन की मांग, क्या खुलेगा-क्या बंद रहेगा, पूरी जानकारी

4 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो || मई 07, 2021 || जयपुर : राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने 10 मई से 25 मई तक 15 दिनों के लिए संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया। इस दौरान शादी समारोह पर भी रोक लगा दी गयी है। सभी धार्मिक स्थल बंद रहेंगे क्या खुलेगा और क्या बंद राज्य में 10 मई सुबह पांच बजे से 25 मई सुबह पांच बजे तक लॉकडाउन लगने के साथ ही विवाह समारोह 31 मई 2021 के बाद ही आयोजित किये जायेंगे। इस दौरान सभी प्रकार के धार्मिक स्थल बंद रहेंगे। विवाह से संबंधित किसी भी प्रकार के समारोह, डीजे, बारात एवं निकासी तथा प्रीतिभोज आदि की अनुमति 31 मई तक नहीं होगी। विवाह घर पर ही या कोर्ट मैरिज के रूप में ही करने की अनुमति होगी, जिसमें केवल 11 व्यक्ति ही अनुमत होंगे। इसकी सूचना वेब पोर्टल पर देनी होगी। निर्णय के अनुसार विवाह में बैंड-बाजे, हलवाई, टेंट या इस प्रकार के अन्य किसी भी व्यक्ति के सम्मिलित होने की अनुमति नहीं होगी। शादी के लिए टेन्ट हाउस एवं हलवाई से संबंधित किसी भी प्रकार के सामान की होम डिलीवरी भी नहीं की जा सकेगी। मैरिज गार्डन, मैरिज हॉल एवं होटल परिसर शादी-समारोह के लिए बंद रहेंगे। विवाह स्थल मालिकों, टेन्ट व्यवसायियों, कैटरिंग संचालकों और बैंड-बाजा वादकों आदि को अग्रिम बुकिंग राशि आयोजनकर्ता को लौटानी होगी या बाद में आयोजन करने पर समायोजित करनी होगी। किसी भी प्रकार के सामूहिक भोज की अनुमति नहीं होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में श्रमिकों के संक्रमित होने के मामले सामने आये हैं, इसे देखते हुए मनरेगा के कार्य स्थगित रहेंगे। चिकित्सा सेवाओं के अतिरिक्त सभी प्रकार के निजी एवं सरकारी परिवहन के साधन जैसे- बस, जीप आदि पूरी तरह बंद रहेंगे। बारात के आवागमन के लिए बस, ऑटो, टेम्पो, ट्रैक्टर, जीप आदि की अनुमति नहीं होगी। मंत्रिमंडल के निर्णय के अनुसार अन्तरराज्यीय एवं राज्य के भीतर माल का परिवहन करने वाले भारी वाहनों का आवागमन, माल उतारने-चढ़ाने तथा इस कार्य के लिए नियोजित व्यक्ति अनुमत होंगे। राज्य में चिकित्सा, अन्य आपातकालीन एवं अनुमत श्रेणियों को छोड़कर एक जिले से दूसरे जिले, एक शहर से दूसरे शहर, शहर से गाँव, गाँव से शहर और एक गाँव से दूसरे गाँव में सभी प्रकार के आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। राज्य के बाहर से आने वाले यात्रियों को 72 घंटे के भीतर करवाई गयी आरटीपीसीआर नेगेटिव जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। यदि कोई यात्री नेगेटिव जांच रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं करता है, तो उसे 15 दिन के लिए पृथक-वास (क्वारान्टाइन) में रखा जायेगा। श्रमिकों के पलायन को रोकने के लिए उद्योगों एवं निर्माण से संबंधित सभी इकाइयों में कार्य करने की अनुमति होगी। श्रमिकों को आवागमन में असुविधा नहीं हो, इसके लिए इन इकाइयों द्वारा पहचान पत्र जारी किया जायेगा। केंद्र से ऑक्सीजन की मांग
बैठक में प्रदेश में ऑक्सीजन के ‘अपर्याप्त आवंटन’ पर गहरी चिंता व्यक्त की गयी। मंत्रिमंडल ने कहा कि राजस्थान में कोरोना संक्रमितों की बड़ी संख्या के अनुपात में केन्द्र सरकार द्वारा किया गया आवंटन नाकाफी है। जामनगर से अनावंटित 200 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की मात्रा में से राजस्थान को अधिकतम आवंटन किया जाये क्योंकि वर्तमान में कोविड रोगियों के लिए प्रदेश में ऑक्सिजन की आवश्यकता 600 मीट्रिक टन से अधिक पहुँच गयी है और 15 मई तक इसके लगभग 795 मीट्रिक टन तक हो जाने का अनुमान है। राजस्थान में गुरुवार को कोराना वायरस संक्रमण के 17,532 नये मामले सामने आये जबकि महामारी से 161 और मरीजों की मौत हो गयी। प्रदेश में अभी 1,98,010 उपचाराधीन मामले हैं जबकि अब तक कुल 5,182 लोगों की मौत हो चुकी है। डराते आँकड़े
चिकित्सा विभाग के आँकडों के अनुसार राज्य में बीते चौबीस घंटे में 17,532 और संक्रमित मिले है। इसमें जयपुर में 3440, जोधपुर में 3201, उदयपुर में 932, अलवर में 910, बीकानेर में 901 नये रोगी शामिल है। आँकड़ों के अनुसार पिछले चौबीस घंटे में राज्य में 16,044 और मरीज ठीक हुए है। राहुल गाँधी (rahul gandhi) के ट्वीट के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (cm ashok gehlot) ने राष्ट्रीय लॉकडाउन (lockdown) की मांग की। और गुरुवार को राजस्थान में सम्पूर्ण लॉकडाउन (total lockdown in rajasthan 2021) की घोषणा कर दी गयी। 10 मई से 24 मई तक लॉकडाउन लगाया गया। मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए आर्थिक सहयोग दीजिए… उम्मीद है आप मिशन अंबेडकर से अवश्य जुड़ेंगे आप सब जानते हैं अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक ! मूकनायक मीडिया आपके लिए ले कर आता है, वे न्यूज़-स्टोरीज जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहाँ से जहाँ वे हो रही हैं। मूकनायक मीडिया यह सब तभी कर सकता है जब आप सभी बाबासाहब डॉ अंबेडकर के इस मिशन से आत्मीयता से जुड़ें ! हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरें आप तक पँहुचाने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें। आप सब दानवीर हैं इसलिए आपसे मिशन अंबेडकर को आगे बढ़ाने हेतु आर्थिक मदद माँग रहे हैं। अत: अपनी इच्छानुसार PhonePay या Paytm 9999 750 166 पर 100, 500, 1000 या अपनी हेसियत के मुताबिक आर्थिक सहयोग दीजिए..

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This