University Exams: राजस्थान में विश्वविद्यालयों की परीक्षाओं को लेकर उच्च स्तरीय समिति गठित

2 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो || मई 27, 2021 || जयपुर : अधिकांश विश्वविद्यालयों में टाइम टेबल के हिसाब से मई के आखिरी सप्ताह तक सभी कक्षाओं की परीक्षाएं खत्म हो जाती थीं। इस साल कोरोना के कारण प्रदेशभर के 20 लाख से अधिक छात्रों का भविष्य संकट में है। बहरहाल, प्रदेश में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की परीक्षाओं पर निर्णय लेने के लिए सरकार ने बुधवार को कमेटी बना दी। यह कमेटी 15 दिनों में फैसला करेगी कि परीक्षाएं होंगी या फिर छात्रों को प्रमोट किया जायेगा। उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी की ओर गठित की गई कमेटी में 4 कुलपति, कॉलेज शिक्षा आयुक्त और जॉइंट सेक्रेट्री हैं। लॉ यूनिवर्सिटी के वीसी डॉ. देवस्वरूप संयोजक रहेंगे। कमेटी को यूजीसी, एआईसीटीई, एनसीटीई, बीसीआई के मापदंडों को ध्यान में रखते हुए 15 दिन में रिपोर्ट देनी होगी। कक्षाओं में प्रमोट करना संभव होगा कमेटी प्रदेश में परीक्षाएं ऑनलाइन/ ऑफलाइन आयोजित करने और जिन कक्षाओं में प्रमोट करना संभव हो उनमें प्रमोट करने का फार्मूला तय करेगी। इसके अलावा कोर्स में कमी करने, परीक्षा पेपर में विकल्प देने, परीक्षा का समय कम करने, कॉपियों का मूल्यांकन से लेकर रिजल्ट जारी करने, अगला शैक्षणिक सत्र प्रारंभ करने के संबंध में सुझाव देगी। डॉ. देवस्वरूप को बनाया संयोजक उच्च शिक्षा मंत्री ने बताया कि इस समिति की अध्यक्षता डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. देवस्वरूप करेंगे। इनके अलावा बांसवाड़ा विवि के वीसी प्रो. आई वी त्रिवेदी, उदयपुर विवि के वीसी प्रो. अमरीका सिंह, पत्रकारिता यूनिवर्सिटी के वीसी ओम थानवी, कॉलेज शिक्षा आयुक्त संदेश नायक सदस्य और उच्च शिक्षा विभाग के जॉइंट सेक्रेट्री डॉ. मोहम्मद नईम सदस्य सचिव हैं। पिछले साल हर विश्वविद्यालय की अलग नीति थी, अब राज्य स्तर पर एक नीति बनेगी पिछले साल यूनिवर्सिटीज की अलग नीतियां थीं। कुछ ने मार्कशीट में नंबर दर्शाए तो किसी ने नहीं। अब कमेटी की रिपोर्ट पर सभी में समान प्रारूप लागू किया जाएगा। सरकारी कॉलेजों में फर्स्ट ईयर में 1.71 लाख छात्र हैं। इस साल 1776 कॉलेजों में 12.59 लाख नामांकन हुए हैं। पिछले साल आरयू ने फर्स्ट, सेकंड ईयर के 3 लाख छात्रों को प्रमोट किया था। इस बार यूजी, पीजी में रेगुलर व नॉन कॉलेजिएट में 5.46 लाख छात्र हैं। प्राइवेट यूनिवर्सिटीज, तकनीकी व अन्य मिलाकर 20 लाख छात्र हैं। मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए आर्थिक सहयोग दीजिए… उम्मीद है आप मिशन अंबेडकर से अवश्य जुड़ेंगे मूकनायक मीडिया बिरसा फुले अंबेडकार मिशन हम तभी जारी रख सकते हैं जब आप सभी बाबासाहब डॉ अंबेडकर के इस मिशन से आत्मीयता से जुड़ें ! मिशनरी कार्य आप तक पँहुचाने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें। आप सब दानवीर हैं इसलिए आपसे मिशन अंबेडकर को आगे बढ़ाने हेतु आर्थिक मदद की जरुरत हैं। अत: अपनी इच्छानुसार PhonePay या Paytm 9999750166 पर 200, 500, 1000, 2000, 5000, 10000, 20000 या इससे भी इससे भी अधिक अपनी हेसियत के मुताबिक नीचे Donate link पर जाकर आर्थिक सहयोग दीजिए ताकि बिरसा फुले अंबेडकार मिशन का कारवाँ जारी रह सके। जैसे-जैसे संसाधन बढ़ेंगे.. आपका मूकनायक मीडिया आगे बढ़ेगा..

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This