RAS 2018 टॉपर : मुक्ता राव ने आरएएस परीक्षा दूसरी में किया टॉप, दो-दो ख़ुशी एक साथ, ससुर ने दी हिम्मत

3 min read

मूकनायक मीडिया ब्यूरो || 14 जुलाई 2021|| जयपुर- अजमेर : राजस्थान लोक सेवा आयोग अजमेर ने आरएएस परीक्षा 2018 का रिजल्ट मंगलवार रात घोषित कर दिया है। झुंझुनूं जिले के चिड़ावा की रहने वाली मुक्ता राव ने टॉप किया है। दूसरी रैंक टोंक के मनमोहन शर्मा व तीसरी रैंक जयपुर की शिवाक्षी खांडल ने प्राप्त की है। झुंझुनूं के चिड़ावा (Chirawa) की रहने वाली और स्वतंत्रता सैनानी चौधरी रक्षपालसिंह की पौत्री मुक्ता राव (Mukta Rao) ने आरएएस 2018 (RAS 2018) की परीक्षा को टॉप किया है। उनकी पूरे राजस्थान (Rajasthan) में एक नंबर रैंक आयी है। मुक्ता राव ने आरएएस परीक्षा दूसरी बार दी थी, जिसके बाद उन्होंने टॉप किया है। मुक्ता के पति डॉ विजयपालसिंह ढाका मणिपाल यूनिवर्सिटी जयपुर (Manipal University Jaipur) में कंप्यूटर साइंस डिर्पाटमेंट के हेड हैं। मुक्ता की शादी सीकर जिले के नेतड़वास गांव में मास्टर भंवरसिंह के घर पर हुई है। मुक्ता की उपलब्धि पर उनके रिश्तेदार मोहब्बतसरी निवासी डॉ नंदकिशोर पूनियां, उनकी पत्नी ज्योति राव पूनियां, बहन डॉ निशा राव धनखड़, बहनोई मुकेश धनखड़, अविनाश राव तथा अभिषेक राव सहित अन्य ने खुशी जाहिर की है। मुक्ता को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। मुक्ता के पिता महेंद्रसिंह राव का भी बिजनेस है। क्या कहना है टॉपर मुक्ता का मुक्ता ने अपनी उपलब्धि पर खुशी जाहिर की है और कहा कि उन्हें इस मुकाम तक लाने में बड़े बुजूर्गों के आशीर्वाद के साथ—साथ उनके पति डॉ विजयपालसिंह तथा उनके ससुर मास्टर भंवरसिंह का बड़ा योगदान है। वह खुद 2007 में शादी के बाद से आयीटी इंडस्ट्री में थी, जहां पर काफी पैसा था। कई ऑप्शन थे। लेकिन सोसायटी से जुड़ाव नहीं था। ससुर ने दी हिम्मत पहले उनके पति ने कई बार कहा कि तुम आयीटी के लिए नहीं बल्कि सिविल सर्विसेज के लिए बनी हो। वह खुद भी अपने दादा स्वतंत्रता सेनानी रक्षपालसिंह को देखती तो समाज के लिए कुछ करने की तमन्ना थी लेकिन वह तय नहीं कर पा रही थी। इसी दौरान उनके ससुर भंवर सिंह ने कहा कि तुम सब छोड़कर बस अब सिविल सर्विसेज की तैयारी करो। उनका विश्वास देखकर मैंने भी ठान लिया और आज सफलता हासिल कर ली। दो-दो ख़ुशी एक साथ, याद करती हैं स्वामी विवेकानंद के शब्द उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद की सोच के साथ आगे बढ़ने सफलता मिलती ही है। स्वामीजी ने कहा था कि लक्ष्य को जीए, सोचे, खाये, पीये, सभी में लक्ष्य सामने हो तो वो प्राप्त होगा ही। झुंझुनूं के चिड़ावा निवासी आरएएस टॉपर मुक्ता राव के घर पर डबल खुशी मनायी जा रही है। उनकी बहन डॉ निशा राव धनखड़ के पति मुकेश धनखड़ ने एक्स आर्मी मैन वर्ग में 60वीं रैंक प्राप्त की है। इससे पहले मुकेश धनखड़ का एसआयी में भी चयन हो चुका है। मुकेश धनखड़ ने लगातार दूसरी सफलता प्राप्त की है। मुकेश धनखड़ की सफलता की खुशी भी ना केवल धनखड़ परिवार में, बल्कि राव परिवार में मनाई जा रही है। मुक्ता राव आरएएस टॉपर की जीवनी मूलरूप से राजस्थान के झुंझुनूं जिले के चिड़ावा कस्बे की रहने वाली मुक्ता राव ने 12वीं तक की पढ़ाई चिड़ावा के डालमिया बालिका स्कूल से पूरी की। चिड़ावा से ग्रेजुएशन की और एमएससी की​ डिग्री जयपुर से प्राप्त की। इसके बाद आईटी कंपनी इंफोसिस में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के पद पर दस साल तक नौकरी की। नौकरी छोड़कर आरएएस टॉपर बन गयी। डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। उम्मीद है आप बिरसा फुले अंबेडकर मिशन से अवश्य जुड़ेंगे, सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp

डॉ अंबेडकर की बुलंद आवाज के दस्तावेज : मूकनायक मीडिया पर आपका स्वागत है। दलित, आदिवासी, पिछड़े और महिला के हक़-हकुक तथा सामाजिक न्याय और बहुजन अधिकारों से जुड़ी हर ख़बर पाने के लिए मूकनायक मीडिया के इन सभी links फेसबुक/ Twitter / यूट्यूब चैनलको click करके सब्सक्राइब कीजिए… बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी के “Payback to Society” के मंत्र के तहत मूकनायक मीडिया को साहसी पत्रकारिता जारी रखने के लिए PhonePay या Paytm 9999750166 पर यथाशक्ति आर्थिक सहयोग दीजिए…
उम्मीद है आप बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन से अवश्य जुड़ेंगे !

बिरसा अंबेडकर फुले फातिमा मिशन के लिए सहयोग के लिए धन्यवाद्

Recent Post

Live Cricket Update

Rashifal

You May Like This